UP Corona Alert: बिना मास्क नहीं मिलेगी दवाई, रेलवे स्‍टेशन पर पकड़े गए तो लगेगा बड़ा जुर्माना

कोरोना: मास्क नहीं तो मेडिकल से नहीं मिलेगी दवा, रेल यात्रियों पर जुर्माना (फाइल फोटो)

कोरोना: मास्क नहीं तो मेडिकल से नहीं मिलेगी दवा, रेल यात्रियों पर जुर्माना (फाइल फोटो)

कोरोना संक्रमण को लेकर उत्तर प्रदेश में एक बार फिर सख्ती के संकेत मिलने लगे हैं. राजधानी लखनऊ में यदि मास्क नहीं लगाया तो इस पर जुर्माना लगाया जाएगा. घर से निकलने वालों को प्रशासन ने मास्क लगाने और कोरोना गाइडलाइल का पालन करने के सख्त हिदायत दे दी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 18, 2021, 7:14 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. होली के पहले ही कोरोना संक्रमण को लेकर उत्तर प्रदेश ( Uttar Pradesh ) में एक बार फिर सख्ती के संकेत मिलने लगे हैं. राजधानी लखनऊ ( Lucknow) में यदि मास्क नहीं लगाया तो इस पर जुर्माना लगाया जाएगा. घर से निकलने वालों को प्रशासन ने मास्क लगाने और कोरोना गाइडलाइल का पालन करने के सख्त हिदायत दे दी है. कैमिस्ट ऐसोसिएशन (Chemist Association ) ने भी बिना मास्क मेडिकल स्टोर पर दवाई नहीं देने का फैसला कर लिया. दवा व्यापारियों को मास्क लगाने को कहा गया है. वहीं, चारबाग स्टेशन व लखनऊ जंक्शन पर बगैर मास्क के दिखने वालों से रेलवे प्रशासन सौ रुपये जुर्माना वसूल करेगा.

एक बार फिर कई राज्यों में कोरोना दस्तक देता दिख रहा है. कई जगहों पर कोरोना संक्रमण के मामले बढऩे लगे हैं. इसी को लेकर लखनऊ केमिस्ट एसोसिएशन ने एक बैठक कर कोरोना नियमों के पालन कराने को लेकर एक महत्वपूर्ण फैसला किया है. जिमखाना क्लब में हुई कार्यकारिणी की बैठक में थोक और फुटकर व्यापारियों ने बिना मास्क लगाए आने वालों को दवा नहीं देने का निर्णय किया है.

एसोसिएशन अध्यक्ष गिरिराज रस्तोगी ने कहा कि होली को लेकर बाजार में भीड़ बढ़ गई है. वहीं, कोरोना के मामलों में लगातार इजाफा देखने को मिल रहा है. इसी को लेकर कैमिस्ट ऐसोसियेशन ने निर्णय लिया कि बिना मास्क लगाए किसी भी व्यक्ति के साथ कारोबार नहीं किया जाएगा. यह व्यवस्था फुटकर तथा थोक दोनों बाजारों पर लागू होगी. वहीं, बाजारों में समय-समय पर सैनिटाइजेशन भी किया जाएगा. बैठक में कहा गया कि वह दवा कारोबारियों को टीकाकरण के लिए भी प्रेरित करेंगे.

एसोसिएशन के पदाधिकारियों के अनुसार राजधानी में 25 हजार से ज्यादा दवा दुकानें हैं. इन पर रोजाना करीब 25 हजार लोग दवाई खरीदने आते हैं. इनमें लखनऊ के दूर-दराज के इलाके के साथ अन्य जनपद के विक्रेता भी रहते हैं. दवा दुकानों पर रोजाना करोड़ों का कारोबार होता है. इसी को लेकर कोरोना गाइडलाइन का पालन कराने को लेकर बैठक में कुछ सख्त दिशा निर्देश जारी कर दिए गए हैं.
कोरोना को लेकर स्टेशनों पर भी सख्ती

लखनऊ में कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने होली से पहले ही सख्ती दिखनी शुरू कर दी गई. चारबाग स्टेशन और लखनऊ जंक्शन पर बगैर मास्क के यात्रियों पर नजर रहेगी. यहां बृहस्पतिवार से सौ रुपये जुर्माना लगाए जाने का निर्णय लिया गया. दिल्ली, महाराष्ट्र, पंजाब व दक्षिण के राज्यों में तेजी से फैलते कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर यह फैसला लिया गया. यहां से बड़ी संख्या में लोग रोजाना ट्रेनों में लखनऊ पहुंच रहे हैं.  चारबाग स्टेशन पर 72 मेल-एक्सप्रेस, पैसेंजर ट्रेनों का संचालन हो रहा है. इसी तरह लखनऊ जंक्शन पर 15 से अधिक ट्रेनों की आवाजाही है.  इनमें लखनऊ मेल, पुष्पक, शताब्दी एक्सप्रेस, तेजस जैसी प्रमुख ट्रेनें हैं। इसमें आने वाले यात्रियों को मास्क नहीं लगाने पर जुर्माना किया जा रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज