UP News: विधानसभा चुनाव से पहले योगी कैबिनेट में 'सर्जरी' की तैयारी, मंत्रियों से लिया जा रहा रिपोर्ट कार्ड!

राधा मोहन सिंह और बीएल संतोष ने बीजेपी दफ्तर में की अहम बैठक

UP BJP Meeting: दौरे के पहले दिन सोमवार को राधामोहन सिंह और राष्ट्रीय महासचिव बीएल संतोष ने प्रदेश महामंत्री सुनील बंसल और प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह के साथ कई घंटे मंथन किया.

  • Share this:
    लखनऊ. अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) से पहले बीजेपी (BJP) एक्शन मोड में आ गई है. यही वजह है कि बीजेपी नेतृत्व का पूरा फोकस उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) पर है. माना जा रहा है कि योगी सरकार (Yogi Government) के मंत्रिमंडल और प्रदेश संगठन में संभावित फेरबदल से पहले मंत्रियों का रिपोर्ट कार्ड और पदाधिकारियों से सरकार के कामकाज का फीडबैक लिया जाएगा. इसी क्रम में यूपी प्रभारी राधामोहन सिंह और बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव बीएल संतोष दो दिन के लखनऊ के दौरे पर हैं.

    अपने दौरे के पहले दिन सोमवार को राधामोहन सिंह और राष्ट्रीय महासचिव बीएल संतोष ने प्रदेश महामंत्री सुनील बंसल और प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव के साथ कई घंटे मंथन किया. इस दौरान मंत्री सुरेश खन्ना और स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह से भी उनकी अलग से बैठक हुई. कहा जा रहा है कि दोनों नेताओं ने उनके विभाग के कामकाज का रिपोर्ट लिया. मंगलवार को भी दोनों नेता डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य, डॉ दिनेश शर्मा, मंत्री स्मृति सिंह, सिद्धार्थनाथ सिंह, श्रीकांत शर्मा, सतीश द्विवेदी जैसे मंत्रियों से उनके विभाग का रिपोर्ट कार्ड लेंगे.

    सीएम योगी संग तीन घंटे तक मैराथन बैठक
    मंत्रियों और पदाधिकारियों के साथ बैठक के बाद राधा मोहन सिंह और बीएल संतोष मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिलने उनके सरकारी आवास पहुंचे. इस दौरान दोनों डिप्टी सीएम, प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और प्रदेश महामंत्री सुनील बंसल भी मौजूद रहे. यह बैठक तीन घंटे तक चली.

    केंद्रीय नेताओं का दौरा बदलाव के संकेत?
    माना जा रहा है कि दोनों ही नेता अपने दौरे की रिपोर्ट बनाकर केंद्रीय नेतृत्व को सौंपेंगे, जिसके बाद सरकार में फेरबदल और संगठन में बदलाव देखने को मिल सकता है. राजनीतिक विशेषज्ञों का मानना है कि आरएसएस और बीजेपी नेताओं का यूपी दौरा यूं ही नहीं है. इसके पीछे किसी बड़े बदलाव की तयारी हो सकती है. वरिष्ठ पत्रकार अनिल भार्गव के मुताबिक, आरएसएस के सेकंड इन कमांड दत्तात्रेय हसबोले और अब राधा मोहन सिंह और बीएल संतोष का दौरा बता रहा है कि कुछ न कुछ खिचड़ी पक रही है. वैसे उनका यह भी कहना है कि 2022 से पहले किसी बड़े बदलाव की संभावना कम ही है. उधर, बीजेपी का कहना है कि पार्टी नेतृत्व कोरोना महामारी में कार्यकर्ताओं के सेवा कार्यक्रम और जनता की मदद को लेकर यह बैठक कर रही है.