होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /Lucknow Zoo: 2100KM का सफर तय कर चेन्नई से लखनऊ पहुंची 'इंद्रा', लखनऊ चिड़ियाघर की बढ़ाएगी शोभा

Lucknow Zoo: 2100KM का सफर तय कर चेन्नई से लखनऊ पहुंची 'इंद्रा', लखनऊ चिड़ियाघर की बढ़ाएगी शोभा

लखनऊ चिड़ियाघर में सफेद बाघिन इंद्रा पहुंची.

लखनऊ चिड़ियाघर में सफेद बाघिन इंद्रा पहुंची.

Lucknow Zoo: लखनऊ चिड़ियाघर में तमिलनाडु से 2100 किलोमीटर का सफर तय कर सफेद बाघिन इंद्रा पहुंच चुकी है. इंद्रा चिड़ियाघ ...अधिक पढ़ें

    लखनऊ: अंजलि सिंह राजपूत

    लखनऊ. यूपी की राजधानी लखनऊ के चिड़ियाघर में 2100 किलोमीटर का सफर तय करके शोभा बढ़ाने के सफेद बाघिन इंद्रा पहुंच चुकी है. इंद्रा चिड़ियाघर में रह रहे सफेद बाघिन विशाखा और सफेद बाघ जय की पड़ोसी बनेगी. साथ ही एक लंबे अरसे बाद विशाखा और जय को नया दोस्त भी मिल गया है. लखनऊ चिड़ियाघर के निदेशक वीके मिश्र ने बताया कि सफेद बाघिन इंद्रा को लाने के लिए 24 नवंबर को चिड़ियाघर के चिकित्सक डॉ. बृजेंद्र मणि यादव तमिलनाडु के अरिग्नार अन्ना जूलॉजिकल पार्क, वंडालूर चिड़ियाघर के लिए रवाना हुए थे. 27 नवंबर देर शाम सफेद बाघिन को सुरक्षित लेकर लौटे हैं.

    वीके मिश्र ने बताया कि मंगलवार से चिड़ियाघर आने वाले दर्शक इसे देख सकेंगे. एक नए मेहमान के चिड़ियाघर आने से रौनक बढ़ गई है. सफेद बाघिन के बदले में लखनऊ चिड़ियाघर अरिग्नार अन्ना जूलॉजिकल पार्क, वंडालूर चिड़ियाघर को एक बब्बर शेरनी, 6 फिजेंट, एक जोड़ा सारस क्रेन और चार हवासील देगा. उन्होंने बताया कि सफेद बाघिन इंद्रा का जन्म 2010 में अरिग्नार अन्ना जूलॉजिकल पार्क में ही हुआ था.

    आपके शहर से (लखनऊ)

    जय और विशाखा की पड़ोसी बनेगी इंद्रा
    आपको बता दें कि लखनऊ चिड़ियाघर में वर्तमान में एक नर जय और एक मादा विशाखा है. दोनों ही सफेद बाघ बाघिन हैं. इनके ठीक बगल में ही इंद्रा को रखा जाएगा. चिड़ियाघर में लंबे वक्त बाद नए मेहमान के आगमन से गुलजार होगा. सफेद बाघिन इंद्रा को माहौल बदलने का एहसास बिल्कुल भी न हो, इसीलिए उसे उसकी नस्ल के बाघों के बगल में ही रखा गया है. पहले लखनऊ चिड़ियाघर में कोई भी जानवर लाया जाता था, तो करीब उसे 15 से 20 दिनों तक आइसोलेशन में रखा जाता था, ताकि वह यहां के माहौल में ढल जाए. उसके बाद बाड़े में भेजा जाता है. जबकि इंद्रा को मंगलवार से दर्शक देख सकेंगे.

    Tags: Lucknow news, UP news

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें