पुलिस के लिए चुनौतीः बुलंदशहर हिंसा के मुख्य आरोपी योगेश राज ने जारी किया VIDEO
Bulandshahr News in Hindi

वीडियो में योगेश राज कह रहा है कि बुलंदशहर के स्याना में हुए गोकशी मामले में पुलिस उसे इस तरह से पेश कर रही है कि जैसे उसका कोई बहुत बड़ा आपराधिक इतिहास हो.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 5, 2018, 5:06 PM IST
  • Share this:
बुलंदशहर हिंसा मामले में यूपी पुलिस ने अभी तक चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है, लेकिन बजरंगदल का जिला संयोजक और मामले का मुख्य आरोपी योगेश राज वारदात के 48 घंटे बाद भी फरार है. योगेश राज पर पुलिस ने चुप्पी साध रखी है, वहीं विपक्ष सरकार पर हमलावर है. इस बीच बुधवार को योगेश राज का एक वीडियो वॉट्सऐप पर वायरल हुआ है. इस वीडियो में योगेश राज खुद को निर्दोष बता रहा है.

वीडियो में योगेश राज कह रहा है कि बुलंदशहर के स्याना में हुए गोकशी मामले में पुलिस उसे इस तरह से पेश कर रही है कि जैसे उसका कोई बहुत बड़ा आपराधिक इतिहास हो. वीडियो में उसने कहा, "मैं ये बताना चाहता हूं कि उस दिन दो घटनाएं हुई थीं. पहली घटना स्याना के नजदीक एक गांव महाव में गोकशी को लेकर हुई थी, जिसकी सूचना पर मैं अपने साथियों के साथ पहुंचा था. प्रशासनिक लोग भी वहां पहुंचे थे. मामले को शांत करने के बाद हम सभी लोग स्याना थाने में अपना मुकदमा लिखवाने आ गए थे."

बुलंदशहर हिंसा: इंस्पेक्टर की हत्या के मुख्य आरोपी योगेश की FIR सवालों के घेरे में



योगेश राज आगे कहते हैं कि थाने में बैठे-बैठे जानकारी मिली कि ग्रामीणों ने पथराव कर दिया है. इस दौरान वहां फायरिंग हुई है, जिसमें एक युवक को गोली लगी है और एक पुलिसवाले को भी गोली लगी है. योगेश पूछते हैं कि जब हमारी मांग पर मुकदमा स्याना थाने में लिखा जा रहा था, तब बजरंग दल आंदोलन क्यों करता. योगेश ने आगे कहा कि वह दूसरी घटना में मौके पर नहीं थे. उनका दूसरी घटना से कोई लेना-देना नहीं है. ईश्वर मुझे न्याय दिलाएंगे, मुझे भगवान पर पूरा भरोसा है.
बता दें योगेश राज ने ही सोमवार को गोकशी की एफआईआर दर्ज करवाई थी, लेकिन वारदात के बाद से वह फरार चल रहा है. एडीजी लॉ एंड आर्डर आनंद कुमार भी मंगलवार को किए प्रेस कांफ्रेंस में योगेश राज का नाम लेने से बचते नजर आए, जबकि तहरीर में तीन बार योगेश राज का नाम लिखा है. वायरल वीडियो में भी योगेश राज मृतक इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह से बहस करता नजर आ रहा है. एडीजी ने अपनी प्रेस कांफ्रेंस में किसी भी संगठन का नाम नहीं लिया.

ये भी पढ़ें: 

महागठबंधन को लेकर कांग्रेस की बैठक में अखिलेश, माया के शामिल होने पर सस्पेंस

UP Police सिपाही भर्ती 2018 का कट आॅफ जारी, आज से डॉक्यूमेंट वैरिफिकेशन

बुलंदशहर हिंसा: मृतक इंस्पेक्टर सुबोध के परिवार से मिलेंगे CM योगी आदित्यनाथ

बुलंदशहर हिंसा: जानिए यूपी में कब-कब भीड़तंत्र के हमले का शिकार हुई खाकी

योगी के मंत्री बोले, बुलंदशहर हिंसा के लिए बजरंगदल और वीएचपी जिम्मेदार

बुलंदशहर हिंसा: इंस्पेक्टर की हत्या में बजरंग दल, बीजेपी, वीएचपी वर्कर्स पर FIR

इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह को नम आंखों से दी गई विदाई, बड़े बेटे ने दी मुखाग्नि
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज