Home /News /uttar-pradesh /

make in uttar pradesh robot to compete china companies buy land for factory in greater noida nodelsp

यूपी में बना रोबोट देगा चाइना को टक्कर, ग्रेटर नोएडा में खुलेगी फैक्ट्री, युवाओं को मिलेगा रोजगार

दिल्ली से सटे ग्रेटर नोएडा में रोबोट बनाने वाली कंपनियों ने फैक्ट्री खोलने के लिए जमीन खरीदनी शुरू कर दी है.

दिल्ली से सटे ग्रेटर नोएडा में रोबोट बनाने वाली कंपनियों ने फैक्ट्री खोलने के लिए जमीन खरीदनी शुरू कर दी है.

Uttar Pradesh Industrial Policy: उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार की औद्योगिक नीतियों से बड़ी-बड़ी कंपनियां प्रभावित हो रही हैं. यही वजह है कि यूपी में जहां एक तरफ ब्रह्मोस मिसाइल का उत्पादन की प्रक्रिया शुरू है, वहीं अब दिल्ली से सटे ग्रेटर नोएडा में रोबोट बनाने वाली कंपनियों ने फैक्ट्री खोलने के लिए जमीन खरीदनी शुरू कर दी है. ग्रेटर नोएडा में रोबोट फैक्ट्री लगने से यहां के हजारों नौजवानों को रोजगार मिलेगा, साथ ही इलाके का औद्योगिक विकास भी होगा.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. आबादी के लिहाज से देश का सबसे बड़ा राज्य उत्तर प्रदेश अब रोबोट मैन्युफैक्चरिंग हब बनने वाला है. जी हां, यूपी के ग्रेटर नोएडा में रोबोट बनाने की फैक्ट्रियां खुलेंगी, जिसमें यहां के हजारों युवाओं को रोजगार मिलेगा. यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार की औद्योगिक नीतियों से देश की कई रोबोट निर्माता कंपनियां प्रभावित होकर प्रदेश में निवेश करने जा रही हैं. ऐसे में वह दिन दूर नहीं जब यूपी में बने रोबोट भारत के पड़ोसी देश चीन को टक्कर देंगे. चीन के सस्ते रोबोट की तुलना में देश में ही अत्याधुनिक रोबोट बनेंगे.

यूपी की औद्योगिक नीति से प्रभावित निवेशक यूपी में रोबोट लगाने की फैक्ट्री स्थापित करने की दिशा में कदम आगे बढ़ा रहे हैं. इस क्रम में कई कंपनियों ने ग्रेटर नोएडा में रोबोट निर्माण के लिए फैक्ट्री स्थापित करने को जमीन खरीदनी शुरू कर दी है. ग्रेटर नोएडा में रोबोट निर्माण संयंत्रों से न सिर्फ इस इलाके का औद्योगिक विकास होगा, बल्कि हजारों की संख्या में प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार सृजन की संभावना भी बढ़ेगी.

4 साल में 500 करोड़ का निवेश

प्राप्त जानकारी के मुताबिक रोबोट निर्माता कंपनी एडवर्ब टेक्नोलॉजी ने ग्रेटर नोएडा के इकोटेक 10 में करीब 13 एकड़ जमीन खरीदी है. यह कंपनी अगले 4 साल में 500 करोड़ रुपये का निवेश कर फैक्ट्री शुरू करेगी. इस कंपनी में 5 लाख रोबोट बनेंगे, जिसके जरिये बड़ी संख्या में स्थानीय युवाओं को रोजगार मिलेगा. एडवर्ब के अलावा एलनटेक इंडिया प्रा. लि., गुरु अमरदास इंटरनेशनल और टेरॉन माइक्रो सिस्टम ने भी रोबोट बनाने के लिए ग्रेटर नोएडा में जमीन ली है.

रोबोट मैन्युफैक्चरिंग का हब

ग्रेटर नोएडा में जिन कंपनियों ने रोबोट फैक्ट्री के लिए जमीन खरीद की प्रक्रिया शुरू की है, उनमें बने रोबोट चीन की कंपनियों को टक्कर देंगे. देश में बने रोबोट न सिर्फ गुणवत्ता की दृष्टि से बेहतर होंगे, बल्कि यह विदेशी रोबोट की तुलना में सस्ते भी होंगे. बड़ी संख्या में रोबोट निर्माता कंपनियों के आने से गौतम बुद्धनगर जिला देश में रोबोट मैन्युफैक्चरिंग हब के रूप में अपनी पहचान बना सकेगा.

Tags: Greater noida news, Lucknow news, UP news, Uttar pradesh industrial policy

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर