लाइव टीवी

लखनऊ में दो बच्‍चों और पत्‍नी की हत्या कर सिरफिरे शख्स ने लगाई फांसी, पुलिस जांच में जुटी

News18 Uttar Pradesh
Updated: January 18, 2020, 1:03 PM IST
लखनऊ में दो बच्‍चों और पत्‍नी की हत्या कर सिरफिरे शख्स ने लगाई फांसी, पुलिस जांच में जुटी
दो बच्‍चोंं और पत्‍नी की हत्‍या के बाद पत‍ि ने की आत्‍महत्‍या

पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय ने बताया कि तीनों को मुंह दबाकर मारा गया है. उन्होंने बताया कि मृतक के पड़ोस में रहने वाले युवक ने पुलिस को इसकी सूचना दी. पुलिस इस मामले की हर एंगल से जांच कर रही है

  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की राजधानी लखनऊ (Lucknow) में एक सिरफिरे शख्स ने अपनी पत्नी और दो बच्चों की गला दबाकर हत्या (Murder) कर दी. वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. गुड़ंबा थाना क्षेत्र के शिवानी विहार चौकी के अंतर्गत शनिवार की सुबह एक साथ चार लोगों की हुई मौत से हड़कंप मच गया. इसकी सूचना मिलने पर पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं. घटना के कारणोंं का अभी पता नहीं चल सका है. पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर उन्हें पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है.

पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय ने घटना के संबंध में बताया कि पिंटू गुप्ता (32) ने पत्नी आरती (30) बेटी नेहा ( 6) और बेटा नैतिक (8) की गला दबाकर हत्या करने के बाद खुद पंखे से झूलकर आत्‍महत्‍या कर ली. मृतक दोनों बच्चों की उम्र 6 और 8 साल है. पुलिस कमिश्नर के मुताबिक मौके पर डाग स्क्वॉयड और फॉरेंसिक टीम हर पहलुओं की जांच कर रही है.

लखनऊ के पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय
लखनऊ के पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय मीडिया को घटना की जानकारी देते हुए


पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय ने बताया कि तीनों को मुंह दबाकर मारा गया है. उन्होंने बताया कि मृतक के पड़ोस में रहने वाले युवक ने पुलिस को इसकी सूचना दी. जिसके बाद डीसीसी, क्राइम टीम और फील्ड यूनिट की टीम मौके पर पहुंची. मामले की हर एंगल से जांच की जा रही है.

गौरतलब है क‍ि प‍िन्‍टू गुप्‍ता अपनी पत्नी और दो बच्‍चों के साथ कल्याणपुर के शिवानी विहार में रहता था. पिंटू रेलवे से रिटायर छोटेलाल के यहां ड्राइवर था और उन्हीं के दूसरे मकान में रहता था. छोटेलाल के यहां आरती खाना बनाती थी. प‍िंंटू ने लोन लेकर ई रिक्शा भी खरीदा था. प‍िंंटू मूलरूप से वाराणसी का रहने वाला था. सुबह नौ बजे छोटेलाल के बच्चे स्कूल जाते हैं. पिंटू के नहीं आने पर छोटेलाल ने फोन मिलाया तो मिला नहीं.

इसपर उन्होंने किराएदार आशुतोष और शनि ने बताया कि दोनों ने दरवाजा खटखटाया पर कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली. झांंककर देखा तो पिंटू फंदे पर लटका मिला. उन्होंने 100 नम्बर पर फोन किया गया. पुलिस ने दरवाजा तोड़ा. पिंटू ने खुद के चेहरे पर काला कपड़ा डालकर फांसी लगाई थी. बेड पर पत्नी और बच्चों का शव बेड पर पड़ा था.

(इनपुट- ऋषभ मणि त्रिपाठी)ये भी पढ़ें:

वाराणसी: यूपी की इस यूनिवर्सिटी ने CAA पर शुरू किया कोर्स, मिलेगा डिप्लोमा सर्टिफिकेट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 18, 2020, 12:17 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर