Lalitpur News:...सिर्फ 5 मिनट में ही युवक को लगा दीं वैक्सीन की दोनों डोज़, जानें फिर क्‍या हुआ

युवक को वैक्‍सीन के अंतराल के बारे में पता नहीं था. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

युवक को वैक्‍सीन के अंतराल के बारे में पता नहीं था. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

यूपी के ललितपुर से स्वास्थ विभाग (Health Department) की बड़ी लापरवाही सामने आयी है. यहां एक सेंटर पर स्वास्थकर्मियों ने एक युवक को सिर्फ पांच मिनट में वैक्‍सीन की दोनों डोज़ दे दीं. यही नहीं, घबराहट और बेचैनी के बाद युवक को जिला अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 10, 2021, 12:55 PM IST
  • Share this:

ललितपुर. उत्‍तर प्रदेश के ललितपुर से स्वास्थ विभाग (Health Department) की बड़ी लापरवाही सामने आई है. दरअसल सदर कोतवाली क्षेत्र के एक कोविड वैक्सीनेशन सेंटर (Covid Vaccination Centre) पर वैक्सीन लगवाने गए युवक को स्वास्थकर्मियों ने पांच मिनट में दो डोज़ दे दीं. वहीं, मामला मीडिया में आने के बाद अब स्वास्थ विभाग में हड़कम्प मच गया है. इसके अलावा वैक्सीन लगवाने वाले युवक को आनन-फानन में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

जानकारी मुताबिक, ललितपुर की सदर कोतवाली के बड़ापुरा निवासी कृष्ण मुरारी मोहल्‍ले में बने रावर स्कूल के कोविड वैक्सीनेशन सेंटर पर वैक्सीन लगवाने के लिए गए हुए थे. इस दौरान वहां मौजूद स्वास्थकर्मियों ने उन्हें एक साथ दो डोज़ दे दीं. यह मामला जब मीडिया में आया तब जाकर कहीं युवक को अस्पताल में भर्ती कराया गया.

युवक को पता नहीं थी ये बात

वैक्सीन लगवाने वाले कृष्ण मुरारी के मुताबिक, मुझे दोनों डोज के बीच कुछ दिनों का अंतर होता है, यह पता नहीं था. इसके अलावा युवक का आरोप है कि स्वास्थ कर्मी आपस में बातें करने में इतना बिजी था कि बस पांच मिनट में ही वैक्सीन की दोनों डोज लगा दीं. यही नहीं, जब कृष्ण मुरारी को घर पहुंचकर घबराहट और बेचैनी महसूस हुई, तो उसके परिजनों ने सीएमओ से शिकायत की. इसके बाद उसे इमरजेंसी में भेज दिया.
ये भी पढ़ें- सिंधिया के बाद जितिन प्रसाद ने थामा कमल, 'चौकड़ी' के टूटने से राहुल गांधी की बढ़ी टेंशन, पढ़ें पूरी कहानी

बहरहाल, सीएमओ ने पांच मिनट में दो वैक्‍सीन डोज लगाने के मामले में कहा कि इससे कोई नुकसान नहीं होगा. वहीं, कहा कि हम इस पूरे मामले की जांच कराएंगे और कड़ी कार्रवाई करेंगे. बता दें कि इस मामले की शिकायत जिला अधिकारी से भी की गई है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज