मनोज सिन्हा ही नहीं राजस्थान-गोवा समेत उत्तर प्रदेश से ही हैं इन 7 राज्यों के गवर्नर
Lucknow News in Hindi

मनोज सिन्हा ही नहीं राजस्थान-गोवा समेत उत्तर प्रदेश से ही हैं इन 7 राज्यों के गवर्नर
मनोज सिन्हा यूपी के रहने वाले हैं.

भारत (India) के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Ramnath Kovind) ने मनोज सिन्हा (Manoj Sinha) को जम्मू और कश्मीर के लेफ्टिनेंट गवर्नर (LG) के पद पर नियुक्त किया है.

  • Share this:
लखनऊ. भारत (India) के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Ramnath Kovind) ने मनोज सिन्हा (Manoj Sinha) को जम्मू और कश्मीर के लेफ्टिनेंट गवर्नर (LG) के पद पर नियुक्त किया है. उनकी यह नियुक्ति उनके पूर्ववर्ती गिरीश चंद्र मूर्मू के इस्तीफे के दिन से मान्य होगी. 2019 में केंद्र सरकार द्वारा जम्मू कश्मीर के पुनर्गठन अधिनियम के तहत जम्मू कश्मीर और लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेशों के तौर पर स्थापित किया गया, जिसके तहत गिरीश चंद्र मूर्मू को जम्मू कश्मीर के पहले एलजी के तौर पर नियुक्त किया गया था. मनोज सिन्हा की नियुक्ति को एक सक्रिय राजनैतिक व्यक्ति को इस पद पर बैठाए जाने के तौर पर भी देखा जा सकता है, जिससे आने वाले दिनों में जम्मू कश्मीर में बदलाव महसूस किया जा सके.

61 वर्षीय मनोज सिन्हा ने बीएचयू स्टूडेंट्स यूनियन से राजनीति शुरू की और 1996 में पहली बार लोकसभा पंहुचे. वे केंद्र सरकार के पिछली कैबिनेट में रेल व संचार मंत्रालय जैसे अहम मंत्रालयों को संभाल चुके हैं. वे पिछले विधानसभा चुनाव में बड़ी जीत के बाद उत्तर प्रदेश के सीएम की दौड़ में भी शामिल थे. मनोज सिन्हा उत्तर प्रदेश के गाजीपुर जिले से आते हैं. मनोज सिन्हा की नियुक्ति के साथ ही राज्यपाल पद पर आसीन उत्तर प्रदेश से आने वाले लोगों की संख्या बढ़कर सात हो गई.
ये भी पढ़ें: झारखंड: CM हाउस के 22 स्टाफ Covid-19 पॉजिटिव, एक दिन में मिले रिकॉर्ड 978 नए केस

इन राज्यों में भी यूपी से राज्यपाल
इससे पहले राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र, गोआ के राज्यपाल सत्यपाल मलिक, केरल के राज्यपाल आरिफ मुहम्मद खान, बिहार के राज्यपाल फागू चौहान, उत्तराखंड की राज्यपाल बेबी रानी मौर्य और अरुणाचल प्रदेश के राज्यपाल ब्रिगेडियर बीडी मिश्रा ये सब भी मूलतः उत्तर प्रदेश से ही आते हैं. सात राज्यों के राज्यपाल के पदों पर उत्तर प्रदेश से संबंधित व्यक्तियों की नियुक्ति ही उत्तर प्रदेश की वर्तमान राजनैतिक महत्ता को रेखांकित करने के लिए काफी है. सात सात राज्यपाल बनाए जाने पर बीजेपी नेता विजय बहादुर पाठक कहते हैं कि उत्तर प्रदेश एक बड़ा राज्य है. राष्ट्रपति भी उत्तर प्रदेश से हैं, वहीं प्रधानमंत्री भी उत्तर प्रदेश से ही प्रतिनिधित्व करते हैं. इसलिए ज्यादा संख्या मे राज्यपाल बनाए जाने पर कोई सवाल नहीं बनता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज