लाइव टीवी

लखनऊ में CAA का विरोध कर रही महिलाओं के खिलाफ FIR निंदनीय: फरंगी महली
Lucknow News in Hindi

Mohd Shabab | News18 Uttar Pradesh
Updated: January 22, 2020, 9:06 AM IST
लखनऊ में CAA का विरोध कर रही महिलाओं के खिलाफ FIR निंदनीय: फरंगी महली
मुस्लिम धर्मगुरु मौलाना ख़ालिद रशीद फरंगी महली

ईदगाह के ईमाम और धर्मगुरु मौलाना ख़ालिद रशीद फरंगीं महली ने मंगलवार को अपना बयान जारी कर कहा कि मुल्क का संविधान हर किसी को क़ानून के दायरे मे रह कर प्रोटेस्ट करने का अधिकार देता है.

  • Share this:
लखनऊ. राजधानी के घंटाघर में पिछले 5 दिनों से चल रहे NPR, NRC और CAA को लेकर महिलाओं के धरने को देश के बड़े मुस्लिम धर्मगुरु मौलाना ख़ालिद रशीद फरंगी महली (Maulana Khalid Rasheed Farangi Mahli) ने समर्थन दिया है. फरंगी महली ने धरना दे रही महिलाओं पर एफआईआर दर्ज करने की सख्त शब्दों में निंदा की है और प्रदर्शन कर रही महिलाओं के जज़्बे को सलाम किया है.

प्रदर्शन गैरकानूनी नहीं

ईदगाह के ईमाम और धर्मगुरु मौलाना ख़ालिद रशीद फरंगीं महली ने मंगलवार को अपना बयान जारी कर कहा कि मुल्क का संविधान हर किसी को क़ानून के दायरे मे रह कर प्रोटेस्ट करने का अधिकार देता है. जो लोग प्रोटेस्ट को ग़ैर कानूनी क़रार दे रहे वह खुद गैरक़ानूनी बात कर रहे है. फ़िरंगी महली ने कहा कि जिन महिलाओं पर मुक़दमे दर्ज हुए हैं उसकी हम सख्त अल्फ़ाज़ में मज़म्मत करते हैं और शाहीन बाग से लेकर मुल्क के अलग-अलग हिस्सों में एनआरसी और सीएए के सिलसिले में जो प्रदर्शन हो रहा है उस को गैर क़ानूनी क़रार नहीं दिया जा सकता.

प्रदर्शन कर रही महिलाओं का नाम इतिहास में दर्ज होगा

फरंगी महली ने अपने बयान में कहा की हमारे ऐतिहासिक शहर में घंटाघर पर जो ख़्वातीन प्रदर्शन कर रही हैं और जाड़े में अपने हक और हुक़ूक़ के लिए जद्दोजहद कर रही हैं, उनको हम सलाम करते हैं. आगे बोलते हुए मौलाना ने कहा कि आने वाले वक्त में इन महिलाओं का नाम इतिहास में दर्ज होगा.
मौलाना ख़ालिद राशीद ने साफ किया कि किसी ने क़ानून को अपने हाथ में नही लिया है और पीसफुल प्रोटेस्ट चल रहा है. ऐसे में दफा 144 में सरकार को दिल्ली हाईकोर्ट के आब्जर्वेशन को निगाह में रखना चाहिए.
ये भी पढ़ें:

वामपंथ की तरह कांग्रेस और सपा को जनता दफन कर देगी: CM योगी

CAA के मुद्दे पर दुष्प्रचार के जरिए देश का चीरहरण कर रहा विपक्ष: सीएम योगी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 22, 2020, 9:06 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर