गोंडा में पुजारी पर जानलेवा हमले को लेकर मायावती बोलीं- संत की सरकार में साधु भी सुरक्षित नहीं

बसपा सुप्रीमो मायावती (फाइल फोटो)
बसपा सुप्रीमो मायावती (फाइल फोटो)

मायावती (Mayawati) ने इस पूरे मामले की गंभीरता से जांच करवाकर आरोपियों को कठोर सजा देने और भू-माफियाओं की संपत्ति जब्त करने की मांग भी की.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 12, 2020, 9:29 AM IST
  • Share this:
लखनऊ. बसपा (BSP) सुप्रीमो मायावती (Mayawati) ने गोंडा (Gonda) जनपद के रामजानकी मंदिर के पुजारी सम्राट दास (Priest Samrat Das) को दबंगों द्वारा गोली मारे जाने पर सूबे की योगी सरकार पर निशाना साधा है. मायावती ने सोमवार को ट्वीट कर कहा कि घटना अति-शर्मनाक है.  सूबे में एक संत की सरकार है इसके बावजूद यहां संत भी सुरक्षित नहीं हैं. उन्होंने मामले की गंभीरता से जांच कर दोषियों के खिलाफ सख्त करवाई की मांग की.

मायावती ने एक के बाद एक दो ट्वीट किए और सरकार को घेरा. पहले ट्वीट में उन्होंने लिखा, "राजस्थान की तरह यूपी के गोंडा जिले में मन्दिर के पुजारी पर भू-माफियाओं द्वारा मन्दिर की जमीन पर कब्जा करने के इरादे से किया गया जानलेवा हमला अति-शर्मनाक अर्थात सन्त की सरकार में अब सन्त भी सुरक्षित नहीं. इससे खराब कानून-व्यवस्था की स्थिति और क्या हो सकती है?"

साधु-सन्तों की सुरक्षा बढ़ाने की मांग



उन्होंने दूसरे ट्वीट में लिखा "यूपी की सरकार इस मामले में सभी पहलुओं का गम्भीरता से संज्ञान लेकर दोषियों के विरूद्ध सख्त कानूनी कार्रवाई करे तथा इस घटना से जुडे़ सभी भू-माफियाओं की सम्पत्ति भी जरूर जब्त की जाये. साथ ही, साधु-सन्तों की सुरक्षा भी बढ़ाई जाये."
गौरतलब है कि शनिवार देर रात रामजानकी मंदिर की जमीन पर कब्जे को लेकर गांव के ही दबंगों ने पुजारी सम्राटदास पर जानलेवा हमला करते हुए उन्हें गोली मार दी. पुजारी को गंभीर हालत में लखनऊ के ट्रामा सेंटर रेफर किया गया, जहां अब उनकी हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है. पुजारी की तहरीर पर चार लोगों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज करते हुए पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि बाकी के अभियुक्तों की तलाश में टीमें दबिश दे रही हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज