लाइव टीवी

मायावती का आरोप- BJP सरकार आने से अपराधी हुए बेलगाम, क्राइम में हुई बढ़ोतरी

भाषा
Updated: October 21, 2019, 12:33 PM IST
मायावती का आरोप- BJP सरकार आने से अपराधी हुए बेलगाम, क्राइम में हुई बढ़ोतरी
मायावती ने बीजेपी पर लगाए गंभीर आरोप (फाइल फोटो)

मायावती (Mayawati) का कहना है कि उत्तर प्रदेश में अपराधियों का मनोबल बढ़ गया है. सरकार लोगों के लिए कुछ नहीं कर रही है. अब जनता त्रस्त हो चुकी है.

  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बहुजन समाज पार्टी (BSP) की अध्यक्ष मायावती (Mayawati) ने प्रदेश की कानून-व्यवस्था (Law and order) पर सवाल खड़ा किया है. उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा है कि राज्य में लगातार अपराध की घटनाएं बढ़ रही हैं. इससे आम जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हो गया है. उन्होंने आरोप लगाते हुए सोमवार को दावा किया कि इस स्थिति से निपटने के लिए किए जा रहे सरकारी उपायों से जनता को कोई राहत नहीं मिल रही है.

मायावती ने ट्वीट कर कहा कि उत्तर प्रदेश में जबसे भाजपा की सरकार बनी है तबसे इस बड़े एवं महत्त्वपूर्ण राज्य में अपराध बढ़ते जा रहे हैं. इससे आम लोग काफी दुखी और त्रस्त हो गए हैं. उन्होंने अपराध रोकने के लिए राज्य सरकार द्वारा किए जा रहे उपायों को नाकाफी और बेअसर बताते हुए कहा कि सरकारी उपायों से जनता को कोई राहत नहीं मिल रही है. उन्होंने कहा कि सरकार जनहित में पूरी लगन और निष्ठा से काम करे तो बेहतर होगा.

शुक्रवार को कमलेश तिवारी की हत्या हुई थी
बता दें कि मायावती का यह बयान अखिलेश तिवारी हत्याकांड के बाद आया है. दरअसल, पिछले हफ्ते ही लखनऊ के नाका इलाके में शुक्रवार को कमलेश तिवारी की गला रेतकर हत्या कर दी गई थी. पहले उनके गोली मारे जाने की बात सामने आई थी लेकिन डॉक्टरों का कहना था कि कमलेश तिवारी का किसी धारदार हथियार से गला रेता हत्या की गई है. पुलिस ने मौके से एक रिवाल्वर भी बरामद की थी. वहीं, वारदात को अंजाम देकर आरोपी फरार हो गए थे. अभी तक इस मामले में पुलिस ने गुजरात और यूपी कई संदिग्धों को गिरफ्तार किया है.

रोज नए-नए हो रहे हैं खुलासे
कमलेश तिवारी की हत्या को लेकर लगातार नए खुलासे हो रहे हैं. अब पुलिस ने दाव किया कि गूगल मैप की मदद से हत्यारे उनके घर तक पहुंचे थे. इसके अलावा पुलिस ने ये भी कहा है कि तिवारी का मर्डर करने वाले ट्रेन से लखनऊ आए थे. पुलिस के मुताबिक, चारबाग रेलवे स्टेशन से कमलेश के घर का पता पूछते हुए दोनों हत्यारे गणेशगंज पहुंचे थे. दोनों हत्यारों की लोकेशन हरदोई से मुरादाबाद होते हुए गाजियाबाद में मिली है. कहा जा रहा है कि हत्यारों ने गूगल की मदद से कमलेश तिवारी की जानकारी जुटाई. गूगल मैप से कमलेश तिवारी की लोकेशन तलाश कर हत्यारे खुर्शेदबाग पहुंचे थे.

ये भी पढ़ें- 
Loading...

BJP प्रदेश अध्यक्ष बोले- वोटिंग वाले दिन अपने कर्मचारियों को दें 500-500 रुपए

जानिए सियासी जोड़ियों के दम पर ही आखिर कैसे चलती है बिहार में हुकुमत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 21, 2019, 12:29 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...