समाजवादी पार्टी में मंथन का दौर जारी, हार की समीक्षा के मूड में नहीं हैं मायावती
Lucknow News in Hindi

समाजवादी पार्टी में मंथन का दौर जारी, हार की समीक्षा के मूड में नहीं हैं मायावती
फाइल फोटो

लोकसभा चुनाव में मिली हार के बाद समाजवादी पार्टी में समीक्षाओं का दौर जारी है. वहीं, मायावती अभी तक सक्रिय नहीं दिख रही हैं.

  • Share this:
लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार से समाजवादी पार्टी (सपा) ही नहीं बल्कि समूचे विपक्ष में उथल-पुथल मची हुई है. बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के साथ गठबंधन करने के बावजूद लोकसभा चुनाव में मिली हार के बाद समाजवादी पार्टी में समीक्षाओं का दौर जारी है. सोमवार को राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने लखनऊ पार्टी मुख्यालय पर पार्टी नेताओं की बैठक ली. इस दौरान सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव भी मौजूद रहे. वहीं, बसपा की मुखिया मायावती अभी तक सक्रिय नहीं दिख रही हैं जबकि चुनाव नतीजे से पहले उन्होंने खुद को पीएम का उम्मीदवार बताया था.

हार के बाद अखिलेश और मुलायम तो सक्रिय दिख रहे हैं. वहीं, बसपा सुप्रीमो मायावती ने मंगलवार को दिल्ली में अपने जीते हुए सभी 10 नवनिर्वाचित सांसदों के साथ बैठक की. उन्होंने आगे की रणनीति पर चर्चा करते हुए कहा कि प्रदेश में सपा-बसपा गठबंधन जारी रहेगा. खास बात है कि लोकसभा चुनाव में मिली हार को लेकर मायवती ने कोई खास चर्चा नहीं की. बताया जा रहा है कि गठबंधन सपा के फायदा और बसपा को नुकसान हुआ है, इसीलिए वह मंथन नहीं कर रही हैं. मायावती संसद में शून्य से 10 पर पहुंच गई हैं. इसके अलावा बहुजन समाज पार्टी के वोट शेयर में भी इजाफा हुआ है.

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश की 80 लोकसभा सीटों में से बसपा को 10 और सपा को 5 सीटें मिली हैं. 2019 के लोकसभा चुनाव में बने महागठबंधन के तहत बसपा 38 सीटों पर, सपा 37 सीटों पर और आरएलडी 3 सीटों पर चुनाव लड़ी थी.



ये भी पढ़ें-
लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद यूपी में क्या होगा महागठबंधन का भविष्य?

करारी हार के बाद सपा की बड़ी बैठक, संरक्षक मुलायम भी हुए शामिल

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading