Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    डायबिटीज, डिप्रेशन समेत कई गंभीर बीमारियों से ग्रस्त है रोपड़ जेल में बंद माफिया मुख़्तार अंसारी

    प्रदेश सरकार के आदेश पर पुलिस-प्रशासन माफिया डॉन मुख्‍तार अंसारी के खिलाफ लगातार कार्रवाई कर रही है (फाइल फोटो)
    प्रदेश सरकार के आदेश पर पुलिस-प्रशासन माफिया डॉन मुख्‍तार अंसारी के खिलाफ लगातार कार्रवाई कर रही है (फाइल फोटो)

    उत्‍तर प्रदेश पुलिस को उस वक्त मायूसी हाथ लगी, जब मेडिकल बोर्ड की रिपोर्ट में मुख़्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) को कई बीमारियों से ग्रसित बताया गया और तीन महीने तक कम्पलीट बेड रेस्ट करने की सलाह दी गई है.

    • News18Hindi
    • Last Updated: October 20, 2020, 11:39 AM IST
    • Share this:
    लखनऊ. पंजाब की रोपड़ जेल में बंद माफिया डॉन मुख़्तार अंसारी (Mafia Don Mukhtar Ansari) को मेडिकल बोर्ड ने 3 महीने तक बेड रेस्ट करने को कहा है. मेडिकल बोर्ड की रिपोर्ट के मुताबिक, मुख़्तार अंसारी डायबिटीज, स्लिप डिस्क और डिप्रेशन समेत कई गंभीर बीमारियों से ग्रसित है. दरअसल, गाजीपुर जिले के मोहम्मदाबाद थाने में माफिया मुख़्तार अंसारी के खिलाफ एफआईआर दर्ज है. उत्‍तर प्रदेश पुलिस माफिया डॉन के खिलाफ प्रोडक्शन वारंट लेकर रोपड़ गई थी, लेकिन टीम के हाथ मायूसी लगी है. गाजीपुर पुलिस को प्रयागराज की एमपी-एमएलए कोर्ट में मुख़्तार अंसारी को पेश करना था, जिसके लिए गाजीपुर जिले की पुलिस पंजाब की रोपड़ जेल पहुंची थी.

    पुलिस को उस वक्त मायूसी हाथ लगी जब मेडिकल बोर्ड की रिपोर्ट में मुख़्तार अंसारी को कई बीमारियों से ग्रसित बताया गया और तीन महीने का कम्पलीट बेड रेस्ट करने की सलाह दी गई है. उसके बाद पुलिस खाली हाथ लौट आई. अब तीन महीने तक मुख्तार अंसारी यूपी नहीं लाया जा सकेगा.

    एमपी-एमएलए कोर्ट में होना था पेश
    मुख्तार अंसारी पर फर्जी दस्तावेज के आधार पर शस्त्र लाइसेंस लेने का मुकदमा दर्ज है. इसी मामले में उसे एमपी-एमएलए कोर्ट में पेश किया जाना था. मुख़्तार के बेटे और पत्नी पर भी अलग-अलग मुकदमे दर्ज हैं. दोनों ही फिलहाल फरार चल रहे हैं.
    गौरतलब है कि मुख़्तार अंसारी और उसके गैंग के खिलाफ गाजीपुर, मऊ, वाराणसी, जौनपुर, आजमगढ़ और लखनऊ में ताबड़तोड़ कार्रवाई जारी है. पुलिस और जिला प्रशासन गैंग को आर्थिक चोट पहुंचाने के लिए जहां उसके रिश्तेदारों और गुर्गों की सम्पत्ति जब्त कर रही है. वहीं, परिवार की भी कई संपत्ति जमींदोज की जा चुकी है.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज