Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह की अपील- इस बार की दिवाली लोकल फाॅर वोकल वाली

    मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने लखनऊ में गांधी आश्रम परिसर स्थित खादी इम्पोरियम के नवीनीकरण एवं विस्तारीकरण विक्रय स्थल का उद्घाटन किया है.
    मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने लखनऊ में गांधी आश्रम परिसर स्थित खादी इम्पोरियम के नवीनीकरण एवं विस्तारीकरण विक्रय स्थल का उद्घाटन किया है.

    मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह (Siddharthnath Singh) ने कहा कि पीएम ने विशेष रूप से जनता से अपील की है कि वे इस बार दिवाली में लोकल प्रोडेक्ट ही खरीदें और लोकल को वोकल बनाने में अपनी अहम भूमिका निभाएं.

    • Share this:
    लखनऊ. उत्तर प्रदेश के खादी एवं ग्रामोद्योग मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह (Siddharthnath Singh) ने कहा कि प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Aditya Nath) का सपना है कि इस बार की दीपावली वोकल फाॅर लोकल वाली के रूप में जाना जाए, उन्होंने कहा कि पीएम ने विशेष रूप से जनता से अपील की है कि वे इस दिवाली को लोकल प्रोडेक्ट ही खरीदें और लोकल को वोकल बनाने में अपनी अहम भूमिका निभाएं. सिद्धार्थनाथ लखनऊ में गांधी आश्रम परिसर में स्थापित खादी इम्पोरियम के नवीनीकरण एवं विस्तारीकरण विक्रय स्थल का उद्घाटन करने पहुंचे थे.

    इस अवसर पर उन्होंने कहा कि इस इम्पोरियम के माध्यम से कुटीर उद्योगों के उत्पादों के विपणन को बल मिलेगा. राज्य सरकार ने स्थानीय उत्पादों के विपणन की प्रभावी व्यवस्था सुनिश्चित की है. इस इम्पोरियम को नवीन रूप मिल जाने से अब यह अपने दायित्व को और बाखूबी निभाने में अग्रणी होगा. इसके अतिरिक्त एक छत के नीचे मिट्टी के उत्पाद, अगरबत्ती, शहद सहित खादी के अन्य उत्पाद बिक्री हेतु उपलब्ध होंगे.

    खादी एवं ग्रामोद्योग मंत्री ने खादी भवन में चल रही प्रदर्शनी का उल्लेख करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में हस्तशिल्पियों  द्वारा निर्मित उत्पादों को अधिकाधिक रूप से पसंद किया जा रहा है. इसके साथ ही उनकी कला का भी प्रदर्शन लोगों के आकर्षण का केन्द्र बना है.



    उन्होंने कहा कि मिट्टी से निर्मित उत्पादों के विकास पर कभी भी पहले ध्यान नहीं दिया गया. राज्य सरकार ने इस ओर गंभीरता का परिचय देते हुए माटीकला बोर्ड का गठन किया, जिसकी हर ओर सराहना हो रही है.


    मंत्री ने कहा कि खादी एवं ग्रामोद्योग के उत्पादों को आमजन तक सुगमता से सुलभ कराने के लिए खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड पूरी तरह संवेदनशील है. खादी के उत्पादों की मार्केटिंग को अति व्यवहारिक बनाया जा रहा है, जिससे ग्रामीण क्षेत्र के शिल्पियों को अधिकाधिक रोजगार के अवसर मिल सकें और उनके जीवन में वांछित सुधार आ सकेगा.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज