Home /News /uttar-pradesh /

mla and ministers will do paperless work in up vidhan sabha cm yogi inaugurated upns

पेपरलेस होगा UP विधानसभा का पहला सत्र, CM योगी आदित्यनाथ ने किया लोकार्पण

इस बार विधायक कागज-पेन लेकर नहीं बल्कि टैबलेट से विधानसभा में सवाल पूछेंगे और अपने क्षेत्र के मुद्दों को उठाएंगे.

इस बार विधायक कागज-पेन लेकर नहीं बल्कि टैबलेट से विधानसभा में सवाल पूछेंगे और अपने क्षेत्र के मुद्दों को उठाएंगे.

विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना ने बताया कि यह व्यवस्था अब शूरू होने जा रही है. इसके लिए विधायकों को प्रशिक्षण भी दिया जाएगा. इसका ट्रायल विधानसभा के पहले सत्र में ही किया जाएगा. नेशनल ई विधान एप्लिकेशन एक तरह का सॉफ्टवेयर है. वन नेशन वन एप्लिकेशन के तहत देश के विभिन्न राज्यों में यह व्यवस्था लागू हो रही है. देश के सभी राज्यों की विधानसभा इससे जुड़ने के बाद संसद और राज्यों की विधानसभा डिजिटली जुड़ जाएंगे.

अधिक पढ़ें ...

संकेत मिश्र

लखनऊ. यूपी विधानसभा (UP Vidhan Sabha) का नजारा अब बदल गया है. योगी सरकार ने अधिकांश सरकारी कार्यालय को पेपरलेस करने का कदम उठाने के साथ अब उत्तर प्रदेश विधानमंडल की कार्यवाही को भी पेपरलेस कर लिया है. सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने विधानसभा में गुरुवार को ई -विधान एप्लीकेशन केंद्र का लोकार्पण किया, जिससे विधानसभा की कार्यवाही का ऑनलाइन संचालन किया जाएगा. दरअसल, इस बार विधायक कागज-पेन लेकर नहीं बल्कि टैबलेट से विधानसभा में सवाल पूछेंगे और अपने क्षेत्र के मुद्दों को उठाएंगे. टैबलेट में पूरा ब्योरा दर्ज होगा. यह व्यवस्था यूपी विधानसभा के पहले सत्र से ही लागू होगी. आगामी 23 मई से आहूत विधानसभा के बजट सत्र की कार्यवाही का अब सभी प्रमुख सोशल मीडिया प्लेटफार्म के माध्यम से सदन की बैठक का लाइव प्रसारण प्रदेश की जनता देख सकेगी.

बता दें कि विधानसभा की कार्रवाई में टैब कैसे काम करेगा, इसके लिए बाकायदा विधायकों को प्रशिक्षण दिया जाएगा. यही नहीं यह टैबलेट विधायकों की सीट पर ही काम करेंगे. दूसरी जगह बैठने पर नहीं काम करेंगे. इस टैब में प्रश्नकाल में होने वाले सवाल और उनके लिखित जवाब लोड होंगे. विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना ने बताया कि यह व्यवस्था अब शूरू होने जा रही है. इसके लिए विधायकों को प्रशिक्षण भी दिया जाएगा. इसका ट्रायल विधानसभा के पहले सत्र में ही किया जाएगा.

नेशनल ई विधान एप्लिकेशन एक तरह का सॉफ्टवेयर है. वन नेशन वन एप्लिकेशन के तहत देश के विभिन्न राज्यों में यह व्यवस्था लागू हो रही है. देश के सभी राज्यों की विधानसभा इससे जुड़ने के बाद संसद और राज्यों की विधानसभा डिजिटली जुड़ जाएंगे.

आजम खान को अंतरिम जमानत मिलने के बाद शिवपाल यादव बोले- आ गई वह घड़ी, जिसका इंतजार था

उत्तर प्रदेश विधानमंडल की कार्यवाही को कागज रहित बनाने के लिए विधानमंडल के बजट सत्र से नेशनल ई-विधान परियोजना को लागू करने की तैयारी को सरकार ने पूरा कर लिया है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज विधान भवन में नेशनल ई-विधान एप्लीकेशन केंद्र का लोकार्पण किया. उनके साथ विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना, डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य तथा वित्त एवं संसदीय कार्य मंत्री सुरेश कुमार खन्ना भी थे. अब उत्तर प्रदेश में ई विधान मंडल सत्र होगा.

Tags: BSP MLA, CM Yogi, Lucknow News Today, Samajwadi Party समाजवादी पार्टी, UP news, UP Vidhan Sabha, Yogi government

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर