Lockdown:UP में 215 श्रमिक स्‍पेशल ट्रेनों के जरिए 2 लाख से अधिक प्रवासी मजदूरों की घर वापसी, CM योगी ने दिए ये आदेश
Lucknow News in Hindi

Lockdown:UP में 215 श्रमिक स्‍पेशल ट्रेनों के जरिए 2 लाख से अधिक प्रवासी मजदूरों की घर वापसी,  CM योगी ने दिए ये आदेश
215 ट्रेनों के माध्यम से दो लाख 30 हजार प्रवासी श्रमिकों और कामगारों की वापसी हो चुकी है.

लॉकडाउन (Lockdown) लंबा खिंचने के बाद अपने प्रवासी मजदूरों को लाने के लिए यूपी की योगी सरकार ने पूरी तत्‍परता दिखाई है और अब तक विभिन्न राज्यों से 215 श्रमिक स्‍पेशल ट्रेनों (shramik special trains)के माध्यम से दो लाख 30 हजार प्रवासी श्रमिकों और कामगारों की वापसी हो चुकी है.

  • Share this:
लखनऊ. इस वक्त पूरा देश कोरोना वायरस (Coronavirus) के संकट से जूझ रहा है और इसी वजह से काफी दिनों ने लॉकडाउन चल रहा है. वहीं, लॉकडाउन के कारण उत्तर प्रदेश, बिहार समेत कई राज्‍यों के लाखों मजदूर अन्‍य प्रदेशों में फंसे हुए हैं. हालांकि लॉकडाउन (Lockdown) लंबा खिंचने के बाद अपने प्रवासी मजदूरों को लाने के लिए यूपी की योगी सरकार ने पूरी तत्‍परता दिखाई है और अब तक विभिन्न राज्यों से 215 श्रमिक स्‍पेशल ट्रेनों (shramik special trains) के माध्यम से दो लाख 30 हजार प्रवासी श्रमिकों और कामगारों की वापसी हो चुकी है और रविवार को 57 ट्रेनों से लगभग 70 हजार यात्री प्रदेश में पहुंचेंगे.

अपर मुख्य सचिव ने कही ये बात
यूपी के अपर मुख्य सचिव (गृह एवं सूचना) अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि प्रदेश में विभिन्न राज्यों से 215 ट्रेनों के माध्यम से प्रवासी कामगारों एवं श्रमिकों की वापसी हो चुकी है. जबकि आज रविवार को 57 ट्रेनों से लगभग 70 हजार यात्री आयेंगे.उन्होंने बताया कि लखनऊ, गोरखपुर में 15-15 ट्रेन, प्रयागराज में नौ ट्रेन सहित प्रदेश के 42 स्टेशनों पर विभिन्न राज्यों से ट्रेन लायी जा रही हैं. इसके अलावा बाराबंकी, आजमगढ़, आगरा, कानपुर, जौनपुर, बरेली, बलिया, वाराणसी, गाजीपुर, प्रतापगढ़, रायबरेली, अमेठी, मऊ, कन्नौज, बांदा, हरदोई, अयोध्या, सोनभद्र, गोण्डा, सीतापुर, उन्नाव, बस्ती, कासगंज, मानिकपुर (चित्रकूट), सुल्तानपुर, लखीमपुर खीरी, बहराइच, अम्बेडकरनगर, फतेहपुर, फर्रूखाबाद, चन्दौली, हमीरपुर, कुशीनगर, एटा, जालौन (उरई), इटावा, रामपुर, शाहजहांपुर तथा अलीगढ़ आदि जनपदों में भी प्रवासी कामगारों को लेकर ट्रेन पहुंच चुकी है या पहुंच रही हैं.

सीएम ने दिया है ये आदेश
अपर मुख्य सचिव (गृह एवं सूचना) अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि रविवार सुबह तक पिछले दिनों की 215 ट्रेनें आ चुकी हैं और दो लाख 30 हजार से ज्यादा लोग अलग-अलग ट्रेनों से हमारे यहां आ चुके हैं. उन्होंने कहा कि भारी संख्या में जो लोग ट्रेनों से आ रहे हैं, उनके संदर्भ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आदेश दिया है कि रेलवे स्टेशन पहुंचने के तुरंत बाद मेडिकल स्क्रीनिंग की जाए और उनके लक्षण की जांच हो. इसके बाद उन्हें आश्रय स्थल ले जाकर वहां भोजन कराकर, पानी की व्यवस्था देते हुए बसों में बैठाकर इनको अपने अलग-अलग जनपदों में भेजा जाए. साथ ही अवस्‍थी ने बतया कि जनपद में पहुंचने पर आश्रय स्थल में लेते हुए वहां से गांव पहुंचाने की पूरी व्यवस्था की गई है. हर गांव में निगरानी समिति है जो घर में पृथक रखे जाने के समय श्रमिकों की पूरी देखभाल करेगी. अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री ने कहा है कि सभी सामुदायिक रसोई में साफ-सफाई सुनिश्चित की जाए. मुख्यमंत्री ने कहा है कि सभी प्रवासी श्रमिकों एवं कामगारों का स्वास्थ्य परीक्षण अनिवार्य रूप से किया जाए.



आगरा, मेरठ और कानुपर पर खास नजर
अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये हैं कि विभिन्न राज्यों से उत्तर प्रदेश लौटने वाले प्रवासियों की एक सूची उपलब्ध करायी जाए, ताकि उन्हें उत्तर प्रदेश सुरक्षित लाया जा सके. प्रदेश सरकार सभी प्रवासियों की सकुशल एवं सुरक्षित प्रदेश वापसी के लिए प्रतिबद्ध है.उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण के फैलाव को रोकने तथा परिस्थिति की निगरानी के लिए आगरा, मेरठ तथा कानपुर जनपदों में एक उच्च स्तरीय मेडिकल टीम भेजी जाए. साथ ही इन जनपदों में वरिष्ठ प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारियों को भी भेजने के निर्देश दिए हैं. आगरा में प्रमुख सचिव औद्योगिक विकास आलोक कुमार एवं प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा रजनीश दुबे, पुलिस महानिरीक्षक विजय प्रकाश तथा पीजीआई से एक वरिष्ठ चिकित्सक को भी भेजने के निर्देश दिए हैं.

ये भी पढ़े

Weather Alert: यूपी के इन जिलों में आज रात आंधी चलने के साथ हो सकती है बारिश

लड़की से फेसबुक पर दोस्‍ती, दुल्‍हन तैयार करने के बहाने घर बुलाकर किया रेप!

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज