Home /News /uttar-pradesh /

Mukhtar Ansari News: बाहुबली मुख्तार अंसारी की हाईकोर्ट से गुहार, कहा- मेरी सजा पूरी हो चुकी, रिहा कर दें

Mukhtar Ansari News: बाहुबली मुख्तार अंसारी की हाईकोर्ट से गुहार, कहा- मेरी सजा पूरी हो चुकी, रिहा कर दें

मुख्तार अंसारी फाइल फोटो

मुख्तार अंसारी फाइल फोटो

Mukhtar Ansari News: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से ठीक पहले जेल में बंद बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) ने हाईकोर्ट से रिहाई की गुहार लगाई है. बांदा जेल में बंद बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी ने इलाहाबाद हाईकोर्ट से अपनी गिरफ्तारी को अवैध बताते हुए रिहाई की गुहार लगाई है.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (UP Chunav) से ठीक पहले जेल में बंद बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) ने हाईकोर्ट (High Court) से रिहाई की गुहार लगाई है. बांदा जेल में बंद बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari News) ने इलाहाबाद हाईकोर्ट से अपनी गिरफ्तारी को अवैध बताते हुए रिहाई की गुहार लगाई है. मुख्तार ने दलील दी है कि वह गैंगस्टर एक्ट में सजा काट चुका है. मुख्तार अंसारी के इस गुहार को हाईकोर्ट ने संज्ञान लिया है और कोर्ट ने राज्य सरकार से इस पर जवाब मांगा है.

वहीं, मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari Jain News) की याचिका पर उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से भी जवाब दाखिल कर कहा गया है कि मुख्तार अंसारी तमाम मुकदमों में जेल में बंद हैं, इसलिए उनकी याचिका पोषणीय नहीं है. मुख्तार अंसारी ने अपनी याचिका में आरोप लगाया है कि उसे अवैध रूप से न्यायिक हिरासत में रखा गया है, क्योंकि वह गैंगस्टर एक्ट के तहत दर्ज मुकदमे में दस वर्ष की सजा काट चुका है.

दरअसल, मुख्तार अंसारी के खिलाफ गाजीपुर के मुहम्मदाबाद थाने में 2007 में गैंगस्टर एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज है. इस एक्ट में अधिकतम दस साल की सजा का ही प्रावधान है. उत्‍तर प्रदेश में मुख्‍तार अंसारी के खिलाफ 52 मुकदमे दर्ज हैं. इनमें से 15 केस ट्रायल स्टेज पर हैं. मुख्तार ने हाईकोर्ट में बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका दाखिल की है. फिलहाल, 11 जनवरी को मामले की अगली सुनवाई होगी. जस्टिस सुनीता अग्रवाल और जस्टिस सुधारानी ठाकुर की पीठ में यह सुनवाई हुई.

Tags: Mukhtar ansari, Uttar pradesh news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर