मुख्तार अंसारी की 'घर वापसी' पर बोले कानून मंत्री- अब यूपी में अपराध करके नहीं बच सकता कोई

माफिया डॉन मुख़्तार अंसारी की फाइल फोटो

माफिया डॉन मुख़्तार अंसारी की फाइल फोटो

Mukhtar Ansari Shifting to Banda Jail: बृजेश पाठक ने न्यूज़18 से एक्सक्लूसिव बातचीत में कहा कि मुख्तार अंसारी की वापसी से अपराधियों में एक बड़ा संदेश जाना चाहिए कि वह उत्तर प्रदेश में अपराध करके बच नहीं सकता.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 6, 2021, 11:26 AM IST
  • Share this:

लखनऊ. माफिया डॉन (Mafia Don) और बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) को पंजाब की रोपड़ जेल (Ropar Jail) से बांदा जेल (Banda Jail) शिफ्ट करने के लिए यूपी पुलिस (UP Police) पहुंच चुकी है. इस बीच जहां एक ओर मुख्तार अंसारी का परिवार उनकी सुरक्षा को लेकर आशंकित नजर आ रहा है, वहीं प्रदेश के कानून मंत्री बृजेश पाठक (Brijesh Pathak) ने कहा कि प्रदेश सरकार लगातार पंजाब सरकार के संपर्क में है. जो भी अधिकारियों के जरिए बातचीत में तय हुआ है उसी के आधार पर मुख्तार अंसारी को यूपी लाया जाएगा. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ खुद भी नजर बनाए हुए हैं और हम भी यह चाहते हैं कि जो सुप्रीम कोर्ट ने हमें निर्देश दिया है उसी के तहत मुख्तार अंसारी को वापस यूपी लाया जाए और न्याय सम्मत कार्रवाई हो.

बृजेश पाठक ने न्यूज़18 से एक्सक्लूसिव बातचीत में कहा कि मुख्तार अंसारी की वापसी से अपराधियों में एक बड़ा संदेश जाना चाहिए कि वह उत्तर प्रदेश में अपराध करके बच नहीं सकता. मुख़्तार अंसारी के निजी एंबुलेंस के मामले में भी बृजेश पाठक ने कहा कि जो भी तथ्य और बिंदु वहां से सामने आ रहे हैं एक-एक बिंदुओं की जांच की जाएगी और जांच के बाद जो कार्यवाई होगी वह की जाएगी.

सीएम योगी ले रहे हाई लेवल मीटिंग

मुख़्तार अंसारी को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आवास पर एक हाई लेवल मीटिंग भी चल रही है. इस मीटिंग में प्रमुख सचिव गृह, डीजीपी व पुलिस के आला अधिकारियों भी शामिल हैं. सभी अधिकारी मुख़्तार अंसारी की शिफ्टिंग से लेकर हर जानकारी मुख्यमंत्री को दे रहे हैं.
भाई अफजाल अंसारी ने जताया जान को खतरा

उधर मुख्तार अंसारी के बड़े भाई और सांसद अफजाल अंसारी ने योगी सरकार पर गंभीर सवाल खड़े करते हुए उनकी जान को खतरा बताया है. अफजाल अंसारी ने कहा कि जिस तरह से सरकार के मंत्री और प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष बयानबाजी कर रहे हैं उससे कहीं न कहीं शंका पैदा हो रही है. इसी बीच सूचना मिली है कि मुख़्तार की पत्नी ने शिफ्टिंग के दौरान सुरक्षा को लेकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका भी दाखिल की है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज