• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • जेटली के निधन पर भावुक हुए मुलायम, कहा- नींव के पत्थर साबित होंगे उनके भाषण

जेटली के निधन पर भावुक हुए मुलायम, कहा- नींव के पत्थर साबित होंगे उनके भाषण

जेटली के निधन पर भावुक हुए मुलायम सिंह यादव

जेटली के निधन पर भावुक हुए मुलायम सिंह यादव

आपको बता दें कि अरुण जेटली काफी समय से एक के बाद एक बीमारी से लड़ रहे थे. इसी के चलते उन्‍होंने लोकसभा चुनाव, 2019 में बीजेपी को मिली प्रचंड जीत के बाद पीएम नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर मंत्रिमंडल में शामिल नहीं करने का आग्रह किया था.

  • Share this:
    बीजेपी (BJP) के वरिष्‍ठ नेता अरुण जेटली (Arun Jaitley) का शनिवार को दिल्‍ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया. जेटली के निधन की सूचना मिलने पर भावुक हुए सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने अरुण जेटली के निधन को भारतीय राजनीति की बड़ी क्षति बताया है. उन्होंने कहा कि वे कुशल वक्ता और कानून के बड़े जानकार थे. सांसद के रूप में उनके भाषण नींव का पत्थर साबित होंगे. सपा संरक्षक आगे कहते हैं कि दूसरे दल में रहते हुए भी वे हमारे घनिष्ठ थे. उन्हें लंबे समय तक याद किया जाएगा. उन्होंने दिवंगत नेता के परिवारीजनों व शुभचिंतकों के प्रति संवेदना जताई है.

    दोपहर 2.30 बजे निगम बोध घाट पर होगा अंतिम संस्कार

    बता दें कि पूर्व वित मंत्री अरुण जेटली (Arun Jaitley) का  लंबी बीमारी के बाद शनिवार को दिल्ली के एम्स में 66 वर्ष की आयु में निधन हो गया. उनका अंतिम संस्कार रविवार को निगम बोध घाट पर दोपहर 2.30 बजे किया जाएगा. वहीं बीजेपी (BJP) कार्यकर्ता और अन्य लोग अरुण जेटली के अंतिम दर्शन कर सकें, इसके लिए आज सुबह 10 बजे उनका पार्थिव शरीर पार्टी मुख्यालय में रखा जाएगा.

    लंबी बीमारी से जूझ रहे थे जेटली

    आपको बता दें कि अरुण जेटली काफी समय से एक के बाद एक बीमारी से लड़ रहे थे. इसी के चलते उन्‍होंने लोकसभा चुनाव, 2019 में बीजेपी को मिली प्रचंड जीत के बाद पीएम नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर मंत्रिमंडल में शामिल नहीं करने का आग्रह किया था.

    मंत्रिमंडल में शामिल नहीं करने के लिए लिखा था पत्र

    जेटली ने पत्र में लिखा था कि 18 महीने से मेरा स्‍वास्‍थ्‍य खराब चल रहा है. मैंने चुनाव प्रचार की सभी जिम्‍मेदारियों को निभाया. अब अपनी सेहत और इलाज पर ध्‍यान देना चाहता हूं. दरअसल, उन्‍हें अप्रैल, 2017 में एम्स में भर्ती कराया गया था, जहां वह डायलसिस पर थे. इसके बाद 14 मई, 2018 को दिल्ली के एम्स में उनका किडनी ट्रांसप्‍लांट हुआ. उनकी गैरमौजूदगी में रेल मंत्री पीयूष गोयल को वित्त मंत्रालय की अतिरिक्त जिम्मेदारी सौंपी गई थी. इसके बाद जेटली ने 23 अगस्त, 2018 को फिर वित्त मंत्रालय की जिम्‍मेदारी संभाल ली.

    ये भी पढ़ें:

    ग्रेटर नोएडा: पुरानी रंजिश में BJP कार्यकर्ता को मारी गोली

    अमरोहा: पत्नी ने दिया दूसरी बेटी को जन्म तो पति ने दे डाला तीन तलाक

    शादी से पहले मंगेतर देता था धमकी, तंग आकर युवती ने की आत्महत्या

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज