लाइव टीवी

अयोध्या फैसले पर रिव्यू पिटीशन को लेकर मुस्लिम पक्षों में दो फाड़!

News18 Uttar Pradesh
Updated: November 18, 2019, 8:50 AM IST
अयोध्या फैसले पर रिव्यू पिटीशन को लेकर मुस्लिम पक्षों में दो फाड़!
AIMPLB की बैठक में पुनर्विचार याचिका दाखिल करने पर फैसला लिया गया. (फाइल फोटो)

लखनऊ में हुई पर्सनल लॉ बोर्ड (AIMPLB) की बैठक के बाद सचिव जाफरयाब जिलानी और मौलाना उमरेन महफूज रहमानी ने पुनर्विचार याचिका (Review Petition) दाखिल कर दी जाएगी.

  • Share this:
लखनऊ. ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (AIMPLB)और जमियत उलेमा-ए-हिन्द ने रविवार को ऐलान किया कि वे अयोध्या (Ayodhya) पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के पांच जजों की संविधान पीठ द्वारा दिए गए फैसले के खिलाफ पुनर्विचार याचिका (Review Petition) दाखिल करेगी. इतना ही नहीं पर्सनल लॉ बोर्ड ने मस्जिद के लिए दूसरी जगह जमीन लेने से भी इनकार कर दिया. हालांकि, सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड (Sunni Central Waqf Board) और इस मामले में मुख्य पक्षकार इकबाल अंसारी (Iqbal Ansari) की राय जुदा है. सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड और इकबाल अंसारी ने कहा है कि वे इस मामले में रिव्यू पिटीशन दाखिल नहीं करेंगे.

लखनऊ में हुई पर्सनल लॉ बोर्ड की बैठक के बाद सचिव जफरयाब जिलानी (Zafaryab Jilani) और मौलाना उमरेन महफूज रहमानी ने कहा कि 30 दिन के भीतर पुनर्विचार याचिका दाखिल कर दी जाएगी. इतना ही नहीं बोर्ड की तरफ से राजीव धवन ही वकील होंगे. मुमताज पीजी कॉलेज में हुई बैठक के बाद जिलानी और रहमानी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला समझ से परे, अनुचित और विरोधाभासी है. हम इंसाफ के लिए सुप्रीम कोर्ट गए थे, न कि कहीं और थोड़ी से जमीन लेने के लिए. मस्जिद की जमीन अल्लाह की होती है. शरीयत के मुताबिक हम दूसरी जमीन कबूल नहीं कर सकते.

मुस्लिम पक्ष बंटा
मुख्य पक्षकार इकबाल अंसारी और सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड ने पर्सनल लॉ बोर्ड के फैसले से किनारा कर लिया है. इकबाल अंसारी ने कहा मुस्लिम पक्ष के पांच पक्षकार हैं. कोई क्या कह रहा है, इससे हमें कोई लेना-देना नहीं है. हम रिव्यू याचिका दाखिल नहीं कर रहे हैं. अब इसका कोई मतलब नहीं है, जब फैसला वही रहेगा. इससे सामाजिक सौहार्द बिगड़ेगा. दूसरी तरफ, सुन्नी वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष जफर फारूकी ने कहा हम पुनर्विचार याचिका दाखिल न करने के फैसले पर कायम हैं. हालांकि, पांच एकड़ जमीन को लेकर पर्सनल लॉ बोर्ड के नजरिए पर गौर करेंगे. सुन्नी वक्फ बोर्ड 26 नवंबर को इस पर चर्चा करेगा.

ये भी पढ़ें:

सुप्रीम कोर्ट के अयोध्या फैसले के खिलाफ पुनर्विचार याचिका दाखिल करेगा AIMPLB

अरशद मदनी बोले- अयोध्या पर SC के फैसले के खिलाफ करेंगे अपील

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 18, 2019, 8:17 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...