Home /News /uttar-pradesh /

मायावती बोलीं- बाबा साहब आंबेडकर की तरह अपना लूंगी बौद्ध धर्म, लेकिन...

मायावती बोलीं- बाबा साहब आंबेडकर की तरह अपना लूंगी बौद्ध धर्म, लेकिन...

बसपा प्रमुख मायावती ने नागपुर की रैली में किया बड़ा ऐलान

बसपा प्रमुख मायावती ने नागपुर की रैली में किया बड़ा ऐलान

BSP सुप्रीमो मायावती (Mayawati) ने कहा वह भी बौद्ध धर्म की अनुयायी बनने के लिए दीक्षा अवश्य लेंगी, लेकिन ऐसा वह सही समय आने पर करेंगी.

    लखनऊ. महाराष्ट्र (Maharashtra) के नागपुर (Nagpur) में एक चुनावी जनसभा (Election Rally) को संबोधित करने पहुंचीं बसपा सुप्रीमो मायावती (BSP Supremo Mayawati) ने सोमवार को बड़ा ऐलान किया. उन्होंने कहा कि बाबा साहब भीमराव आंबेडकर (Baba Sahab Bhimrao Ambedkar) की तरह ही वह भी हिंदू धर्म (Hinduism) छोड़कर बौद्ध धर्म (Buddhism) अपना लेंगी. हालांकि, यह फैसला वह सही और उचित समय पर लेंगी. इतना ही नहीं, उन्होंने आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत (RSS Chief Mohan Bhagwat) के उस बयान पर भी आपत्ति जताई, जिसमें उन्होंने भारत को हिंदू राष्ट्र बताया था.

    नागपुर में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए मायावती ने कहा, 'आप लोग मेरे धर्म परिवर्तन के बारे में भी सोचते होंगे. ...तो मैं आपको बता दूं कि मैं भी बौद्ध धर्म की दीक्षा जरूर लूंगी. बाबा साहब भीमराव आंबेडकर ने अपने देहांत से कुछ वक्त पहले अपना धर्म परिवर्तन किया था. मैं भी बौद्ध धर्म की अनुयायी बनने के लिए दीक्षा अवश्य लूंगी, लेकिन यह तब होगा जब इसका सही समय आ जाए. ऐसा तब होगा जब पूरे देश में बड़ी संख्या में लोग ऐसा धर्मांतरण करें. धर्मांतरण की यह प्रक्रिया भी तब संभव है, जब बाबा साहब के अनुयायी राजनीतिक जीवन में भी उनके बताए रास्ते का अनुसरण करें.'

    मोहन भागवत के हिंदू राष्ट्र वाले बयान से सहमत नहीं

    मायावती ने आगे बोलते हुए कहा कि वह आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के उस बयान से सहमत नहीं हैं, जिसमें उन्होंने भारत को हिंदू राष्ट्र बताया था. मायावती ने कहा कि बाबा साहब आंबेडकर ने धर्मनिरपेक्षता के आधार पर संविधान बनाया था. उन्होंने धर्मनिरपेक्षता के आधार पर सभी धर्म के लोगों का ख्याल रखा था. आरएसएस प्रमुख को इस तरह का बयान देने से पहले सच्चर समिति की रिपोर्ट पढ़नी चाहिए.

    क्या कहा था भागवत ने

    गौरतलब है कि विजयादशमी के अवसर पर नागपुर में आयोजित एक कार्यक्रम में आरएसएस प्रमुख ने कहा था कि भारत हिंदू राष्ट्र है और यहां के मुस्लिम बहुत खुश हैं.

    ये भी पढ़ें:

    यूपी पुलिस ने 25 हजार होमगार्ड की सेवाएं लेने से किया इनकार, हटाए गए

    आजम के फिर छलके आंसू, बोले- खुदा जाने जीत के बाद कौन सा इम्तिहान और बाकी है?

    Tags: Assembly Election 2019, B. R. ambedkar, BSP, Maharashtra Assembly Election 2019, Mayawati, UP news, Up news in hindi

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर