सुर्खियां: लखनऊ के दौरे पर आज प्रियंका गांधी, गठबंधन के बाद पहली बार मायावती से मिले जयंत चौधरी

राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) के उपाध्यक्ष जयंत चौधरी शनिवार को बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती से मिले. दोनों के बीच पश्चिमी उत्तर प्रदेश के राजनीतिक हालात पर लगभग एक घंटे तक चर्चा हुई.

News18Hindi
Updated: March 17, 2019, 6:48 AM IST
सुर्खियां: लखनऊ के दौरे पर आज प्रियंका गांधी, गठबंधन के बाद पहली बार मायावती से मिले जयंत चौधरी
प्रियंका गांधी (File Photo)
News18Hindi
Updated: March 17, 2019, 6:48 AM IST
कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा रविवार को विधानसभा चुनाव 2017 के जीते व हारे प्रत्याशियों के साथ बैठक करेंगी. बैठक में लोकसभा चुनाव को लेकर मंथन होगा. इन सभी नेताओं से चुनाव में पूरी तरह से जुटने का आह्वान भी किया जाएगा.प्रियंका आज सुबह करीब 7.30 बजे विमान से अमौसी एयरपोर्ट पहुंचेंगी. उनका कार्यक्रम शनिवार देर शाम जिला प्रशासन को मिल गया. लखनऊ के एडीएम प्रोटोकॉल अनिल कुमार ने बताया कि एयरपोर्ट से प्रियंका सीधे पार्टी मुख्यालय आएंगी.अमर उजाला ने इस खबर को प्रमुखता दी है.

मायावती से मिले जयंत चौधरी

राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) के उपाध्यक्ष जयंत चौधरी शनिवार को बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती से मिले. दोनों के बीच पश्चिमी उत्तर प्रदेश के राजनीतिक हालात पर लगभग एक घंटे तक चर्चा हुई. बैठक के बाद जयंत चौधरी ने प्रदेश की सभी 80 सीटों पर महागठबंधन की जीत होने का दावा किया.यह बैठक लखनऊ में मॉल एवेन्यू स्थित बसपा अध्यक्ष मायावती के आवास पर हुई. इस दौरान बसपा के महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा भी मौजूद रहे.दैनिक हिन्दुस्तान ने इस खबर को प्रमुखता दी है.



राहुल गांधी के खिलाफ परिवाद दाखिल

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के पुलवामा हमले की जिम्मेदारी लेने वाले आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को सम्मानित शब्द जी लगाकर संबोधित करने का मामला बढ़ता ही जा रहा है. उनके खिलाफ इस मामले में देश भर में एक दर्जन से अधिक स्थान पर मुकदमा दर्ज करने की अर्जी डाली गई है. आज बदायूं में भी एक अधिवक्ता ने राहुल गांधी के खिलाफ मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट कोर्ट में परिवाद की अर्जी दी है. सीजेएम कोर्ट में सुनवाई के लिए 23 मार्च की तिथि निर्धारित की है. दैनिक जागरण ने इस खबर को प्रमुखता दी है.

श्रीश्री रविशंकर को हटाने की मांग

धर्मगुरु अधोक्षजानंद देव तीर्थ महाराज ने शनिवार को सुप्रीम कोर्ट से अयोध्या मामले में श्रीश्री रविशंकर को मध्यस्थता समिति से हटाए जाने का अनुरोध किया. बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने 8 मार्च को राजनीतिक दृष्टि से संवेदनशील राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद का सर्वमान्य समाधान खोजने के लिए पूर्व न्यायाधीश एफएमआई कलीफुल्ला की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय मध्यस्थता समिति का गठन किया था. एनबीटी ने इस खबर को प्रमुखता दी है.
Loading...

ये भी पढ़ें:

चुनाव प्रचार के लिए स्टीमर से नहीं जा पाएंगी प्रियंका गांधी, EC ने लगाई रोक

यूपी में और बढ़ा NDA का कुनबा, इन पांच दलों ने किया समर्थन

कांग्रेस ने जारी की 27 उम्मीदवारों की चौथी लिस्ट, तिरुअनंतपुरम से शशि थरूर लड़ेंगे चुनाव

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...

और भी देखें

पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...