होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /COVID-19: UP सरकार का बड़ा कदम, कोरोना प्रभावित 18 जिलों में भेजे गए नोडल अधिकारी

COVID-19: UP सरकार का बड़ा कदम, कोरोना प्रभावित 18 जिलों में भेजे गए नोडल अधिकारी

सीएम योगी को धमकी देने के मामले में अब तक दो युवक गिरफ्तार हुए हैं. (फाइल फोटो)

सीएम योगी को धमकी देने के मामले में अब तक दो युवक गिरफ्तार हुए हैं. (फाइल फोटो)

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) का निर्देश मिलते ही प्रदेश के 18 जिलों के ...अधिक पढ़ें

    लखनऊ. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने शुक्रवार को कोविड-19 (COVID-19) से सर्वाधिक प्रभावित प्रदेश के 18 जिलों में वरिष्ठ प्रशासनिक, पुलिस और स्वास्थ्य अधिकारियों को जाने का निर्देश दिया. सीएम का निर्देश मिलते ही संबंधित अधिकारी शुक्रवार को ही अपने-अपने जनपद को रवाना हो गए. प्रदेश के जिन जिलों में कोविड-19 के 20 या उससे अधिक मामले हैं, इन अधिकारियों को वहीं भेजा जा रहा है.

    अपर मुख्य सचिव सूचना और गृह अवनीश अवस्थी ने शुक्रवार को संवाददाता सम्मेलन में बताया, ‘गुरुवार को मुख्यमंत्री ने समीक्षा बैठक में निर्देश दिया था कि जिन जनपदों में कोविड-19 के 20 या उससे अधिक मामले हैं, वहां वरिष्ठ प्रशासनिक, पुलिस अधिकारी तथा वरिष्ठ स्वास्थ्य अधिकारियों को भेजा जाए. शुक्रवार को प्रदेश के 18 जिलों के लिए एक वरिष्ठ आईएएस अधिकारी, एक वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी तथा एक वरिष्ठ डॉक्टर की तैनाती कर दी गई तथा मुख्यमंत्री के साथ बैठक के बाद यह सभी शुक्रवार को ही अपने-अपने जनपदों को रवाना हो गए.'

    News18 Hindi
    इन जिलों में इन्हें बनाया गया है नोडल अधिकारी.


    इन जिलों में भेजे गए हैं नोडल अधिकारी
    उन्होंने बताया कि जिन 18 जनपदों में यह नोडल अधिकारी भेजे गए है उनमें आगरा, फिरोजाबाद, लखनऊ, रायबरेली, मेरठ, गाजियाबाद, गौतमबुध्दनगर, बुलंदशहर, कानपुर नगर, मुरादाबाद, बिजनौर, अमरोहा, सहारनपुर, शामली,बस्ती औरेया, संभल और सीतापुर शामिल हैं. उन्होंने कहा, ‘एक अधिकारी सम्बन्धित जनपद में कम से कम एक सप्ताह रुक कर वहां संचालित स्वास्थ्य सहित विभिन्न कार्यों का पर्यवेक्षण करेंगे. वहीं पुलिस अधिकारी आवंटित जनपद में लॉकडाउन को और प्रभावी ढंग से लागू कराएंगे तथा अपनी रिपोर्ट भी प्रेषित करेंगे.'

    इलाज, राशन और सामुदायिक रसोई पर नजर रखेंगे अधिकारी
    उन्होंने बताया कि वरिष्ठ अधिकारी जिले में रुक कर वहां रोगियों के इलाज से लेकर जनता को मिलने वाले राशन और सामुदायिक रसोई आदि की व्यवस्था पर नजर रखेंगे, साथ ही कोविड-19 के मरीजों और लॉकडाउन से उत्पन्न स्थिति की भी समीक्षा करेंगे. अवस्थी ने बताया, ‘जिलाधिकारी तथा पुलिस अधीक्षक सहित फील्ड में तैनात सभी प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारी मण्डी तथा घनी आबादी वाले क्षेत्रों में नियमित गश्त करेंगे.’

    ये भी पढे़ं - 

    बहुत लोकप्रिय हुआ हॉटस्पॉट का 'यूपी मॉडल'- CM योगी आदित्यनाथ

    COVID-19: दिल्ली के चिड़ियाघर में एक बाघिन की मौत, टेस्ट के लिए भेजा गया सैंपल

    आपके शहर से (लखनऊ)

    Tags: Coronavirus, Coronavirus in India, COVID-19 pandemic, Up news in hindi, Uttar pradesh news, Yogi adityanath

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें