Home /News /uttar-pradesh /

अब Corona को मात देकर घर जाने के लिए स्वस्थ मरीजों को नहीं मिलेगी एम्बुलेंस, ये है बड़ी वजह

अब Corona को मात देकर घर जाने के लिए स्वस्थ मरीजों को नहीं मिलेगी एम्बुलेंस, ये है बड़ी वजह

इस नए आदेश को सभी जिलों को भेजा गया है. इसके बाद प्रशासन अब अस्पताल से स्वस्थ होकर घर जाने वाले को एम्बुलेंस से नहीं भेजेगा. (सांकेतिक तस्वीर)

इस नए आदेश को सभी जिलों को भेजा गया है. इसके बाद प्रशासन अब अस्पताल से स्वस्थ होकर घर जाने वाले को एम्बुलेंस से नहीं भेजेगा. (सांकेतिक तस्वीर)

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के द्वारा गाजियाबाद सीएमओ (Ghaziabad CMO) को निर्देश दिए गए हैं. निर्देश में कहा गया है कि कोविड-19 के पेशेंट के ठीक हो जाने के बाद उन्हें किसी एंबुलेंस में नहीं भेजा जाएगा.

    लखनऊ. उत्तर प्रदेश में (Uttar Pradesh) अब कोविड- 19 (COVID-19) के मरीज के ठीक होने के बाद उन्हें निजी वाहन या पब्लिक ट्रांसपोर्ट का इस्तेमाल करके घर जाना होगा. उन्हें अब एम्बुलेंस (Ambulance) घर तक छोड़ने के लिए नहीं मिलेगी. राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के द्वारा गाजियाबाद सीएमओ को निर्देश दिए गए हैं. निर्देश में कहा गया है कि कोविड-19 के पेशेंट के ठीक हो जाने के बाद उन्हें किसी एंबुलेंस में नहीं भेजा जाएगा. वो निजी वाहन या फिर पब्लिक ट्रांसपोर्ट का इस्तेमाल करके अपने घर जा जाएंगे. ताकि कोविड-19 के नए मरीज को लाने के लिए जिन 108 EMTS और ALS एम्बुलेंस का इस्तेमाल किया जा सके. साथ ही कहा गया है कि अगर ठीक होने वाले पेशेंट को छोड़ने के लिए एम्बुलेंस घर तक जाएगी तो नए मरीज को अस्पातल लाने में देरी हो जाएगी. इसलिए नए आदेश को सभी जिलों को भेजा गया है. इसके बाद प्रशासन अब अस्पताल से स्वस्थ होकर घर जाने वाले को एम्बुलेंस से नहीं भेजेगा.

    दरअसल, कल ही खबर सामने आई थी कि उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्ध नगर (नोएडा) जनपद में कोरोना वायरस (Corona Virus) के बढ़ते संक्रमण की वजह से निषिद्ध क्षेत्रों (Containment Zone) की संख्या 280 से बढ़कर 313 हो गई है. इसमें कैटेगरी-1 में 257 और कैटेगरी-2 में 56 कंटेनमेंट जोन हैं. जिला निगरानी अधिकारी डॉक्टर सुनील दोहरे ने बताया कि गौतमबुद्ध नगर जनपद में कोरोना वायरस (COVID-19) के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए, जिन जगहों पर मरीज मिले हैं उन्हें कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है. उन्होंने बताया कि जनपद में अब तक 280 कंटेनमेंट जोन थे जिन्हें बढ़ाकर 313 कर दिया गया है.



    जोन-2 कैटेगरी में एक से ज्यादा मरीज मिलने वाले क्षेत्र को रखा गया है
    दोहरे ने बताया कि कंटेनमेंट जोन कैटेगरी-1 में 257 क्षेत्र हैं, जबकि कंटेनमेंट जोन-2 कैटेगरी में 56 क्षेत्र हैं. उन्होंने बताया कि इन जगहों को सील कर के वहां जिला प्रशासन द्वारा सैनिटाइजेशन आदि का कार्य शुरू कर दिया गया है. उन्होंने बताया कि कंटेनमेंट जोन-1 कैटेगरी में वो क्षेत्र आता है जहां पर एक मरीज मिला है. जबकि जोन-2 कैटेगरी में एक से ज्यादा मरीज मिलने वाले क्षेत्र को रखा गया है.

    सोमवार को जनपद में संक्रमण के 53 नए केस सामने आए
    सोमवार को गौतमबुद्ध नगर जनपद में कोरोना वायरस संक्रमण के 53 नए केस सामने आए थे. आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार बीते चौबीस घंटे के अंदर यहां 211 मरीजों को ठीक होने के बाद अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया. जनपद में संक्रमित लोगों का रिकवरी रेट 64.76 है. बता दें कि गौतमबुद्ध नगर में कोरोना वायरस की वजह से अब तक 2,208 लोग संक्रमित हो चुके हैं. इनमें से 756 लोगों का यहां के अलग-अलग अस्पतालों में उपचार चल रहा है. जबकि 1,430 लोग इलाज के बाद ठीक होकर अस्पताल से डिस्चार्ज किए जा चुके हैं. वहीं कोरोना संक्रमण से नोएडा में अभी तक 22 लोगों की मौत हो चुकी है.

    Tags: Ambulance, Corona Virus, Lucknow news, Uttar pradesh news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर