vidhan sabha election 2017

अब नरेश अग्रवाल ने खुद को बताया राम का पुजारी, की मंदिर निर्माण की वकालत

ETV UP/Uttarakhand
Updated: December 7, 2017, 10:27 PM IST
अब नरेश अग्रवाल ने खुद को बताया राम का पुजारी, की मंदिर निर्माण की वकालत
File Photo
ETV UP/Uttarakhand
Updated: December 7, 2017, 10:27 PM IST
हिंदुओं की एकजुटता देखकर सेकुलरवाद का ढिंढोरा पीटने वाले नेता भी अब रंग बदल रहे हैं. पिछले दिनों कांग्रेस के युवराज राहुल गांधी मंदिरों में गए तो सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने खुद को यदुवंशी और कृष्ण भक्त बताया. वहीं अब सपा महासचिव नरेश अग्रवाल ने खुद को भगवान राम का पुजारी बताया है और मंदिर निर्माण की वकालत की है.

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव नरेश अग्रवाल ने कहा है कि वह राम मंदिर निर्माण के पक्ष में हैं. लेकिन साथ ही अदालत को यह भी निर्देश देना चाहिए कि कोई भी पार्टी जाति और धर्म का इस्तेमाल राजनीति और चुनाव में ना करें. खुद को भगवान राम का पुजारी कहते हुए सांसद नरेश अग्रवाल ने कहा कि उनके नेता मुलायम सिंह यादव भी यदुवंशी हैं और कृष्ण के पुजारी हैं.

हरदोई में पत्रकारों से बातचीत करते हुए नरेश अग्रवाल ने कहा कि जहां ईवीएम से चुनाव होते हैं, वहां बीजेपी जीती है. लेकिन जहां बैलेट से चुनाव होते हैं, वहां बीजेपी हारती है. इससे यह प्रमाणित होता है कि बीजेपी ईवीएम के सहारे चुनाव जीत रही है.

नरेश अग्रवाल ने कहा कि समाजवादी पार्टी ने अन्य विपक्षी दलों के साथ मिलकर चुनाव आयोग से ईवीएम को लेकर शिकायत की है और यह मांग भी की है कि ईवीएम के स्थान पर बैलेट पेपर से चुनाव कराया जाए. उन्होंने राज्य सरकार और हरदोई के जिला प्रशासन पर निकाय चुनाव को प्रभावित करने का आरोप भी लगाया. उन्होंने कहा कि जनता की एकजुटता से प्रशासन और सरकारी तंत्र निकाय चुनाव में गड़बड़ी करने के बाद भी विफल हो गया.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर