प्रियंका गांधी के निर्देश पर UP की 8000 पंचायतों में 3 से 25 जनवरी तक कैंप करेंगे कांग्रेस नेता

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (फाइल फोटो)

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (फाइल फोटो)

उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी (UPCC) के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू बताते हैं कि ‘कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी के निर्देश पर सभी कांग्रेस पदाधिकारी और नेता 3 जनवरी से अपने प्रभार वाले जिलों में कैंप करने जा रहे हैं.

  • Share this:

लखनऊ. कांग्रेस (Congress) की राष्ट्रीय महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) के निर्देश पर मिशन-2022 के मद्देनजर आगामी पंचायत चुनावों (Panchayat Elections) से पहले कांग्रेस अपने संगठन को हर गांव-हर बूथ स्तर तक मजबूत बनाने की कवायद में जुटने जा रही है. उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सभी पदाधिकारी और कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं को यूपी के एक-एक जिले का प्रभारी बनाया गया है. साथ ही संबंधित पदाधिकारी को संबंधित जिले में 3 जनवरी से 25 जनवरी तक लगातार कैंप कर, उस जिले की सभी न्याय पंचायतों में कांग्रेस का एक मजबूत संगठन खड़ा करने की जिम्मेदारी दी गई है.

दरअसल, बीते 24 दिसंबर को यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी ने वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिये उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के साथ जिला और शहर अध्यक्षों की अहम बैठक की थी. जिसमें प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सभी पदाधिकारियों और नेताओं को न सिर्फ एक-एक जिले में सगंठन को मजबूत बनाने की जिम्मेदारी सौंपी थी, बल्कि यूपी के 823 ब्लाकों में कांग्रेस संगठन के गठन का कार्य पूरा के बाद अपने-अपने प्रभार वाले जिलों में 3 से 25 जनवरी तक प्रवास कर संगठन को समयबद्ध तरीके से मजबूत बनाने का निर्देश दिया था. इसी क्रम में 3 जनवरी से उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सभी पदाधिकारियों और नेताओं नें अपने प्रभार वाले जिले में कैंप कर पंचायत स्तर पर संगठन खड़ा करने की तैयारियां पूरी कर ली है.

संगठन की मजबूत नींव रखने का है ये काम: अजय कुमार लल्लू

उत्तर प्रदेश कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू बताते हैं कि ‘कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी के निर्देश पर सभी कांग्रेस पदाधिकारी और नेता 3 जनवरी से अपने प्रभार वाले जिलो में कैंप करने जा रहे हैं. इस दौरान हम स्थानीय स्तर पर सक्रिय प्रभावशाली लोगों को न्यायपंचायत के संगठन में शामिल कर न सिर्फ अपने न्याय पंचायत संगठन को मजबूत करेंगे. बल्कि आने वाले दिनो में प्रदेश की सभी 60 हजार ग्राम सभाओं में भी कांग्रेस के सक्रिय संगठन के लिये एक मजबूत नींव रखने का काम करेंगे.
ये मुद्दे रखेंगे जनता के बीच

इस दौरान हम बेराजगारी, किसानो की समस्या, ध्वस्त कानून-व्यवस्था और भ्रष्टाचार जैसे मुद्दो को जनता के बीच उठायेंगे. गांव-गरीबों की अन्य समस्याओं के समाधान के लिए भी संघर्ष कर मोदी-योगी सरकार की नाकामियो की जनता को जानकारी देकर बेहद मजबूती के साथ आगामी पंचायत चुनाव भी लड़ेगे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज