UP सरकार के एक कैबिनेट मंत्री और उनकी पत्नी कोरोना पॉजिटिव, मची खलबली
Lucknow News in Hindi

UP सरकार के एक कैबिनेट मंत्री और उनकी पत्नी कोरोना पॉजिटिव, मची खलबली
मंत्री और उनकी पत्नी को अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

कोरोना महामारी का खतरा कम होता नहीं दिख रहा है. यूपी के एक कैबिनेट मंत्री और उनकी पत्नी के संक्रमित होने की जानकारी मिली है.

  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के योगी सरकार (Yogi Government) के एक कैबिनेट मंत्री और उनकी पत्नी कोरोना वायरस से संक्रमित (Covid-19 Positive) पाए गए हैं. इन दोनों को संजय गांधी स्नातकोत्तर आयुर्विज्ञान संस्थान (SGPGI) में भर्ती कराया गया है. मंत्री ने शनिवार को मीडिया से टेलीफोन पर बातचीत में बताया कि वह अस्पताल में इलाज करा रहे हैं और उनकी तबीयत ‘‘ठीक’’ है. जानकारी मिली है कि मंत्री को शुक्रवार को अस्पताल में भर्ती कराया गया था. वह शुक्रवार को हुई जांच में संक्रमित पाये गये. उनकी पत्नी भी संक्रमित पाई गई है.

 

महामारी पर रोकथाम का प्रयास जारी
इसकी जानकारी मिलने के बाद लखनऊ और प्रदेश के कई हिस्सों में हंगामा मचा हुआ है. कोरोना महामारी के संकट के दौर में राजनीतिक दलों के नेता और प्रशासनिक अधिकारी सतर्कता बरतने का प्रयास कर रहे हैं. यूपी में योगी सरकार इस महामारी पर रोकथाम लगाने के लिए लगातार प्रयास करने का दावा कर रही है.
घर-घर स्क्रीनिंग की हुई शुरुआत


यूपी में कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए प्रदेश सरकार ने मेगा सर्विलांस अभियान की शुरुआत की. जिसे मेरठ मंडल से शुरू किया गया. इस दौरान पूरे प्रदेश के 17 मंडलों में घर घर जाकर लोगों की स्क्रीनिंग की जाएगी. इस दौरान संदिग्धों को तुरंत इलाज के लिए भेजा जाएगा. जानकारी मिली है कि पल्स पोलियो अभियान के तर्ज पर इस अभियान को पूरा किया जाएगा. पूरे यूपी में एक लाख से ज्यादा टीम इस अभियान में भाग लेगी. मेरठ मंडल इस अभियान की शुरुआत होने वाली है. इस दौरान करीब 1400 लोगों की टीम मेरठ मंडल में घर-घर जांच करेगी.

ये भी पढ़ें: 

 Analysis: यूपी के चर्चित माफियाओं से अलग है विकास दुबे का चरित्र, जानिए कैसे?

 

राजधानी लखनऊ के लिए ये है कार्ययोजना
राजधानी लखनऊ में दो हजार से ज्यादा लोगों की टीमें घर-घर जाकर कोरोना का नमूना लेंगी. इस संबंध में लखनऊ के डीएम अभिषेक प्रकाश ने बताय़ा कि स्वास्थ विभाग की 2000 टीमें तैयार हैं. जिस घर से नमूना लिया जाएगा वहां एक बोर्ड भी चस्पा किया जाएगा. उन्होंने बताया कि इस महाअभियान के तहत ज्यादा से ज्यादा नमूनों की जांच का लक्ष्य रखा गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading