संसद सत्र के आखिरी लम्हों में चर्चा का विषय बना 'मुलायम का आशीर्वाद'

संसद सत्र के आखिरी दिन मुलायम का आशीर्वाद सारी पार्टियों में चर्चा का विषय बन गया, इसका जिक्र पीएम समेत लगभग सभी विपक्षी पार्टियों ने अपने-अपने अंदाज में किया. स्पीकर ने भी अपने आखिरी भाषण के दौरान मुलायम के आशीर्वाद का जिक्र किया.

News18 Uttar Pradesh
Updated: February 14, 2019, 12:42 AM IST
संसद सत्र के आखिरी लम्हों में चर्चा का विषय बना 'मुलायम का आशीर्वाद'
मुलायम सिंह यादव (फाइल फोटो)
News18 Uttar Pradesh
Updated: February 14, 2019, 12:42 AM IST
अमित पांडेय
संसद सत्र के आखिरी दिन मुलायम का आशीर्वाद सारी पार्टियों में चर्चा का विषय बन गया, इसका जिक्र पीएम समेत लगभग सभी विपक्षी पार्टियों ने अपने-अपने अंदाज में किया. यहां तक कि स्पीकर ने अपने आखिरी भाषण के दौरान भी आशीर्वाद का जिक्र किया जिसके बाद संसद के आखिरी पल ठहाकों से गूंज उठे.

मौका था 16 वीं लोकसभा का सत्र खत्म होने पर अलग-अलग पार्टियों के सांसद अपना समापन भाषण दे रहे थे. संसद सत्र के आखिरी दिन अलग-अलग पार्टियों के नेताओं को सदन में अपने विचार रखने का मौका मिला. वरिष्ठ होने के नाते मुलायम सिंह यादव थोड़ा पहले बोले, और अपने भाषण के दौरान उन्होंने पीएम मोदी को आशीर्वाद दिया. मुलायम का कहना था कि उनका आशीर्वाद पीएम मोदी के साथ है, जिसके बाद सदन में सत्ता पक्ष के सांसदों के चेहरे पर हंसी छा गई. बस, फिर क्या था अलग-अलग पार्टियों ने अपने ढंग से इस 'आशीर्वीद की व्याख्या की'.

पीएम मोदी ने अपने भाषण में आशीर्वाद का जिक्र किया और कहा कि उसकी वजह से वे अपनी सरकार के विकास के काम लगातार आगे बढ़ाते रहेंगे, मुलायम सिंह यादव के आशीर्वाद के लिए पीएम ने अपने भाषण में उनका धन्यवाद भी किया. पीएम की इन बातों का समर्थन उनकी पार्टी के सांसदों ने भी किया. केन्द्रीय मंत्री राधा मोहन सिंह का कहना था कि सारी जनता प्रधानमंत्री मोदी के काम को तो जान ही चुकी है अब मुलायम सिंह यादव का आशीर्वाद मिला है तो इससे यह साबित हो चुका है कि सब लोग उनकी बात समझते हैं, उनके काम को जानते हैं.

और आखिरकार सभी पार्टी के वक्ताओं के बोलने के बाद स्पीकर सुमित्रा महाजन ने समापन भाषण दिया, भाषण के दौरान जब स्पीकर सुमित्रा महाजन ने भी इसका जिक्र किया तो विपक्ष की ओर से मल्लिकार्जुन खड़गे ने सीट पर से ही स्पीकर के भाषण के दौरान ही कहा कि मुलायम का आशीर्वाद इस बार उनके गठबंधन को मिलेगा. जिसके बाद विपक्षी खेमे के चेहरे पर मुस्कान आ गई और इस तरीके से हंसी के माहौल में इस सत्र का समापन हुआ.



एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...