COVID-19: 1 मार्च के बाद विदेश से UP लौटे लोग टोल फ्री नंबर 18001805145 पर तत्काल करें संपर्क

एयरोब्रिज पर प्रारंभिक स्‍वास्‍थ्‍य परीक्षण के बाद इमीग्रेशन जांच के लिए मुसाफिरों को ले जाते सीआईएसएफ के अधिकारी.
एयरोब्रिज पर प्रारंभिक स्‍वास्‍थ्‍य परीक्षण के बाद इमीग्रेशन जांच के लिए मुसाफिरों को ले जाते सीआईएसएफ के अधिकारी.

प्रमुख सचिव स्वास्थ्य की तरफ से इस संबंध में उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के सभी जिलों के डीएम और सीएमओ निर्देश भेज दिए गए हैं. इसमें कहा गया है कि इस साल 1 मार्च के बाद स्वदेश लौटे यूपी के नागरिकों का सख्ती से घर में क्वारंटाइन कराया जाए और लगातार इसकी निगरानी की जाए. जो लोग खुद बताना चाहते हैं वे टोल फ्री नंबर पर संपर्क करें.

  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की योगी सरकार (Yogi Government) ने 1 मार्च के बाद विदेश से लौटे लोगों को तत्काल संपर्क करने को कहा है. इसके लिए सरकार की तरफ से एक ऐप और टोल फ्री नंबर 18001805145 भी जारी किया गया है. प्रमुख सचिव चिकित्सा स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने इस संबंध में सभी डीएम और सीएमओ को निर्देश भेजा है और इसका कड़ाई से पालन करने को कहा है.

इसलिए जरूरी है जानकारी

प्रमुख सचिव ने कहा कि प्रदेश में कोरोना (COVID-19) रोगियों की संख्या 31 मार्च को सुबह 7 बजे तक 101 थी. भारत में कोरोना वायरस (coronavirus) के रोगियों की संख्या 17 मार्च तक सौ के आसपास थी, जिसे हजार पहुंचने में महज 12 दिन लगे. हालांकि कई विकसित देशों के मुकाबले भारत में यह वृद्धिदर बेहद कम है. लेकिन सतर्क रहने की जरूरत से इनकार नहीं किया जा सकता. जनसंख्या के लिहाज से यूपी एक बड़ा राज्य है और यहां भी रोग वृदि्धदर करीब-करीब देश के समान ही है.



50 प्रतिशत मरीज गौतमबुद्धनगर और मेरठ क्लस्टर से
उन्होंने कहा कि अब तक प्रदेश के 16 जनपद कोरोना वायरस से प्रभावित हैं. राज्य में 50 प्रतिशत से अधिक रोगी दो जनपदों गौतमबुद्धनगर और मेरठ से हाल ही में चिन्हित किए गए हैं. इससे पहले आगरा का क्लस्टर देश का पहला क्लस्टर चिन्हित किया गया था, लेकिन वहां टीमों ने इस संक्रमण को फैलने से रोकने में अच्छा काम किया है.

ऐप से करें संपर्क या फोन

निर्देश में कहा गया है कि इस साल 1 मार्च के बाद स्वदेश लौटे यूपी के नागरिकों का सख्ती से घर में क्वारंटाइन कराया जाए और लगातार उनकी निगरानी की जाए. 1 मार्च के बाद विदेश से लौटे जो लोग खुद बताना चाहते हैं वे टोल फ्री नंबर पर संपर्क करें. होम क्वारंटाइन में रखे गए सभी व्यक्ति इस ऐप (https://dgmhup-covid19.in/COVID19.apk) के माध्यम से रिपोर्ट जमा करेंगे, जबकि स्मार्ट फोन का प्रयोग नहीं करने वाले व्यक्ति टोल फ्री नंबर 18001805145 पर संपर्क करेंगे.

पढ़ें सभी निर्देश

1 march
यूपी के प्रमुख सचिव स्वास्थ्य के निर्देश


प्रमुख सचिव ने कहा है कि अभी तक यूपी में कोरोना का संक्रमण विदेशी यात्रियों से ही पाया गया है.

1 march1
यूपी के प्रमुख सचिव स्वास्थ्य के निर्देश


ये भी पढ़ें:

तबलीगी जमात पर सख्त सीएम योगी, बोले- जो बदसलूकी करे, दर्ज करो FIR

COVID-19: सरस्वती शिशु मंदिर में आइसोलेशन सेंटर बनाने की तैयारी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज