Home /News /uttar-pradesh /

pet pitbull attacks elderly woman in lucknow succumbs to injuries during treatment upat

UP News: बुज़ुर्ग मालकिन को डेढ़ घंटे तक नोचता रहा पालतू पिटबुल डॉगी, इलाज के दौरान हुई मौत

Lucknow News: पालतू पिटबुल ने बुजुर्ग मालकिन को नोचकर मार डाला

Lucknow News: पालतू पिटबुल ने बुजुर्ग मालकिन को नोचकर मार डाला

Lucknow News: बंगाली टोला निवासी सुशीला त्रिपाठी(78) के पति की मौत काफी समय पहले हो गई थी. घर में सुशीला अपने जिम ट्रेनर बेटे अमित और नौकरानी के साथ रहती थीं. मंगलवार सुबह बेटा अमित जिम चला गया था. नौकरानी घर का काम निपटा रही थी और सुशीला घर की छत पर अपने दो पालतू कुत्तों को टहला रही थीं. सुशीला के पास एक लैब्राडोर और एक पिटबुल प्रजाति का कुत्ता है. टहलाने के दौरान अचानक पिटबुल, सुशीला पर हमलावर हो गया और उनको पेट, चेहरे और हाथ पर बुरी तरह से नोचा.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. राजधानी लखनऊ के कैसरबाग इलाके के बंगाली टोला में एक बुजुर्ग महिला को उसी के पालतू पिटबुल डॉगी ने नोच-नोचकर मार डाला. करीब डेढ़ घंटे तक डॉगी बुजुर्ग महिला को नोचता रहा. उनकी चीख-पुकार सुनकर पड़ोसी पहुंचे लेकिन घर अंदर से लॉक होने की वजह से कोई कुछ नहीं कर पाया. गंभीर रूप से घायल सुशीला त्रिपाठी (78) को बलरामपुर अस्पताल ले जाय गया. जहां इलाज के दौरान उनकी मौत गई.

दरअसल, बंगाली टोला निवासी सुशीला त्रिपाठी(78) के पति की मौत काफी समय पहले हो गई थी.
घर में सुशीला अपने जिम ट्रेनर बेटे अमित और नौकरानी के साथ रहती थीं. मंगलवार सुबह बेटा अमित जिम चला गया था. नौकरानी घर का काम निपटा रही थी और सुशीला घर की छत पर अपने दो पालतू कुत्तों को टहला रही थीं. सुशीला के पास एक लैब्राडोर और एक पिटबुल प्रजाति का कुत्ता है. टहलाने के दौरान अचानक पिटबुल, सुशीला पर हमलावर हो गया और उनको पेट, चेहरे और हाथ पर बुरी तरह से नोचा.

इलाज के दौरान हुई मौत
सुशीला खुद को बचाने के लिए छत पर इधर-उधर भागते हुए जोर-जोर से चिल्लाने लगी. सुशीला की चीख़  सुनकर नौकरानी छत पर पहुंची तो उसने सुशीला को लहूलुहान हालत में ज़मीन पर पड़ा हुआ देखा. नौकरानी ने तुरंत अमित को फोन कर पूरा वाकया बताया. अमित जिम से घर आया और घायल मां को बलरामपुर अस्पताल में भर्ती कराया ,जहां इलाज के दौरान सुशीला की मौत हो गई. अस्पताल के कर्मचारियों ने मामले की सूचना पुलिस को दी. मामला अननेचुरल डेथ का था, लिहाजा पुलिस ने शव का पंचनामा और पोस्टमॉर्टम  करवाया. हालांकि सुशीला के परिजन पोस्टमॉर्टम करवाने को तैयार नहीं थे. पोस्टमॉर्टम के बाद शव को परिजनों के सुपुर्द कर दिया गया. सुशीला त्रिपाठी नारी शिक्षा निकेतन में शिक्षिका के तौर पर तैनात रही थीं. पति आरएन त्रिपाठी की काफी समय पहले मौत हो चुकी है. इस पूरे मामले पर सुशीला के परिवार के लोग कुछ भी बोलने को तैयार नहीं हुए.

Tags: Lucknow news, UP latest news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर