UP: Hate Speech मामले में PFI का लीगल सेल इंचार्ज मोहम्मद दिलशाद गिरफ्तार, SDPI का बता रहा कार्यकर्ता
Lucknow News in Hindi

UP: Hate Speech मामले में PFI का लीगल सेल इंचार्ज मोहम्मद दिलशाद गिरफ्तार, SDPI का बता रहा कार्यकर्ता
लखनऊ पुलिस ने हेट स्पीच मामले में पीएफआई के लीगल सेल इंचार्ज को गिरफ्तार किया है.

लखनऊ पुलिस (Lucknow Police) के अनुसार गिरफ्तार आरोपी दिलशाद सोशल मीडिया पर राम मंदिर, धारा-370 जैसे तमाम संवेदनशील मुद्दों पर भड़काऊ और आपत्तिजनक पोस्ट कर रहा था. इसे लेकर कृष्णानगर पुलिस ने एफआईआर दर्ज की थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 28, 2020, 11:45 AM IST
  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ (Lucknow) में पुलिस ने पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) के लीगल सेल इंचार्ज मोहम्मद दिलशाद (Mohammad Dilshad) को गिरफ्तार किया है. मोहम्मद दिलशाद पर सोशल मीडिया में भड़काऊ, आपत्तिजनक पोस्ट डालने का आरोप है. वह पीएफआई के पूर्वी यूपी का लीगल सेल का इंचार्ज है. पुलिस के अनुसार दिलशाद ने पूछताछ में बताया कि वह पीएफआई की पॉलिटिकल विंग एसडीपीआई (SDPI) का सक्रिय सदस्य है. कृष्णानगर पुलिस ने ये गिरफ्तारी की है.

राम मंदिर सहित तमाम संवेदनशील मुद्दों पर आपत्तिजनक टिप्पणी

पुलिस के अनुसार दिलशाद ने सोशल मीडिया पर श्रीराम मंदिर, धारा 370 और अन्य संवेदनशील मुद्दों पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी. इस प्रकरण में कृष्णानगर पुलिस ने एफआईआर दर्ज की थी. छानबीन के दौरान उसे आजादनगर से गिरफ्तार किया गया.



युवाओं को संगठन से जोड़ने का करता है काम
पुलिस अनुसार पूछताछ में पता चला कि आरोपित संगठन की नीतियों का प्रचार प्रसार करता है और युवाओं को संगठन से जोड़ता है. उसके अन्य साथियों और उनकी गतिविधियों के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है.

राम मंदिर भूमि पूजन के बाद सुरक्षा एजेंसियां सक्रिय

बता दें कि अयोध्या में श्रीराम मंदिर के लिए निर्माण के लिए भूमि पूजन के बाद कई तरह की साजिशों का खुलासा हो रहा है. एक दिल्ली में आईएसआईएस का संदिग्ध आतंकी अबु यूसुफ गिरफ्तार किया गया, वहीं दूसरी तरफ सोशल मीडिया पर सुरक्षा एजेंसियों ने निगाहें गड़ा दी हैं. यहां सांप्रदायिक जहर घोलने की काशिश पर लगातार कार्रवाई की जा रही है. वहीं यूपी पुलिस पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) जैसे संगठनों पर लगातार नजर बनाए रखे है.

इनपुट: ऋषभ मणि त्रिपाठी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज