कोरोना से मौत पर मुआवजा दिलाने के लिए हाईकोर्ट में जनहित याचिका दाखिल

कोरोना से हुई मौतों पर  मुआवजे की मांग  को लेकर जनहित याचिका

कोरोना से हुई मौतों पर मुआवजे की मांग को लेकर जनहित याचिका

Lucknow News: हाईकोर्ट लखनऊ बेंच के जस्टिस ऋतुराज अवस्थी और जस्टिस मनीष माथुर की बेंच ने इस पीआईएल को जुलाई में सुनवाई के लिए सूचीबद्ध करने का आदेश दिया है.

  • Share this:

लखनऊ. इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) की लखनऊ बेंच (Lucknow Bench) में एक जनहित याचिका (PIL) दाखिल हुई है, जिसमें कोरोना से मौत पर मुआवजा देने का आग्रह किया गया है. इसके साथ ही कोरोना से हो रही मौतों से लोगों को बचाने, अस्पताल, बेड, दवाइयों का इंतजाम करने का आग्रह भी इस याचिका में किया गया है. हाईकोर्ट लखनऊ बेंच के जस्टिस ऋतुराज अवस्थी और जस्टिस मनीष माथुर की बेंच ने इस पीआईएल को जुलाई में सुनवाई के लिए सूचीबद्ध करने का आदेश दिया है. डॉक्टर संदीप पांडे की पीआईएल पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सुनवाई के बाद हाईकोर्ट की बेंच ने यह आदेश दिया है.

पीआईएल में कोरोना से जान गंवाने वाले लोगों के परिजनों को आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 के अनुसार सरकार से मुआवजा दिलाने का आग्रह किया गया है. याचिका में केंद्र और राज्य सरकार को पक्षकार बनाते हुए कोरोना पीड़ितों के इलाज और मारे गए लोगों के लिए मुआवजे की मांग की गई है.

वहीं सरकारी वकील की ओर से कोर्ट को बताया गया कि कोरोना से जुड़े मुद्दे को लेकर एक जनहित याचिका पर इलाहाबाद हाईकोर्ट में सुनवाई चल रही है, वहीं सुप्रीम कोर्ट ने भी एक मामले पर संज्ञान लेकर कुछ सुझाव केंद्र सरकार को दिए हैं.

सरकारी वकील के मुताबिक इस बीच अगर सुप्रीम कोर्ट या इलाहाबाद हाईकोर्ट की ओर से इन मामलों में कोई फैसला किया जाता है तो उसे भी रिकॉर्ड पर पेश किया जाएगा. प्रदेश में बढ़ रहे कोरोना के मामलों को लेकर ये जनहित याचिका हाईकोर्ट में दाखिल हुई थी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज