Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi:यूपी के क‍िसानों के खाते में नहीं आए 8वीं क‍िश्‍त के 2000 रुपये, तो यहां करें श‍िकायत

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के उत्‍तर प्रदेश के लाभार्थियों क‍िसानों के खाते में अगर आठवीं क‍िश्‍त के 2000 रुपये नहीं आए हैं तो हेल्‍पलाइन नंबर पर फोन कर श‍िकायत दर्ज करवा सकते हैं.

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के उत्‍तर प्रदेश के लाभार्थियों क‍िसानों के खाते में अगर आठवीं क‍िश्‍त के 2000 रुपये नहीं आए हैं तो हेल्‍पलाइन नंबर पर फोन कर श‍िकायत दर्ज करवा सकते हैं.

PM Kisan Samman Nidhi की घोषणा केंद्र की मोदी सरकार ने साल 2019 में की थी और इस योजना का सबसे ज्‍यादा फायादा उत्‍तर प्रदेश के क‍िसानों का हुआ है.

  • Share this:
प्रधानमंत्री क‍िसान योजना या प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के उत्‍तर प्रदेश के लाभार्थियों क‍िसानों के खाते में अगर आठवीं क‍िश्‍त के 2000 रुपये नहीं आए हैं तो हेल्‍पलाइन नंबर पर फोन कर श‍िकायत दर्ज करवा सकते हैं. इतना ही नहीं इस हेल्‍पलाइन नंबर पर फोन करके यह भी पता चल जाएगा क‍ि आपके खाते में पैसा क‍िस वजह से ट्रांसफर नहीं हुआ है. आपको बता दें क‍ि उत्तर प्रदेश के 2 करोड़ 16.लाख 67 हजार किसानों के खाते में केन्‍द्र सरकार 2000 रुपये ट्रांसफर करती है और इस बार क‍िसानों के खाते में आठवीं किश्त जानी थी. केंद्र सरकार इस योजना के तहत हर पात्र किसान को दो-दो हजार रुपए की बराबर किश्तों में साल भर में 6000 रुपये देती है. यह पैसा ऐसे समय दिया जाता है, जब रबी, खरीफ और जायद की फसलों में कृषि निवेश के लिए किसानों को इसकी बेहद जरूरत होती है.

इस योजना की घोषणा केंद्र की मोदी सरकार ने साल 2019 में की थी और इस योजना का सबसे ज्‍यादा फायादा उत्‍तर प्रदेश के क‍िसानों का हुआ है. अगर यूपी के क‍िसानों को इस योजना के दो हजार रुपये म‍िलने में कोई द‍िक्‍कत हो रही है तो वह पीएम किसान से जुड़ी किसी भी तरह की पूछताछ या श‍िकायत के ल‍िए हेल्पलाइन नंबर 155261 या टोल फ्री नंबर 1800115526 पर कॉल कर सकते हैं. इतना ही नहीं कृषि मंत्रालय ने भी क‍िसानों की समस्‍या को हल करने के लिए एक नंबर जारी क‍िया है. यह नंबर है 011-23381092 है.

केंद्र सरकार किसानों के अकाउंट में भेजती है पैसा

पीएम किसान सम्मान निधि स्कीम के तहत पैसे तभी दिए जाते हैं, जब राज्य सरकार आवेदन करने वाले किसान के रेवेन्यू रिकॉर्ड, आधार नंबर और बैंक अकाउंट नंबर को सही पाकर उसे वेरीफाई कर दे. कृषि स्टेट सबजेक्ट होने की वजह से लाभ तब तक नहीं मिलता है, जब तक राज्य सरकार उस रिकॉर्ड को वेरीफाई नहीं कर दें. राज्य सरकार के वेरीफाई करने के बाद FTO जेनरेट होता है और केंद्र सरकार पैसा अकाउंट में डाल देती है.
ऐसे चेक करें अकाउंट

सबसे पहले आपको पीएम किसान (PM Kisan) की आधिकारिक वेबसाइट https://pmkisan.gov.in/ पर विजिट करना होगा. यहां आपको राइट साइड पर Farmers Corner का ऑप्शन दिखेगा.

- इसके बाद Beneficiary Status में क्लिक करने पर एक नया पेज खुलेगा. इस नए पेज में आधार नंबर, बैंक अकाउंट नंबर, मोबाइल नंबर में से किसी एक ऑप्शन को सेलेक्ट करना होगा.



-आप कोई ऑप्शन सेलेक्ट कर लीजिए और इसके बाद Get Data पर क्लिक करना है. इसके बाद आपको ट्रांजेक्शन की पूरी जानकारी मिल जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज