यूपी के CM योगी आदित्यनाथ को पीएम मोदी ने इस अंदाज में दी जन्मदिन की बधाई

पीएम नरेंद्र मोदी ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को जन्‍मदिन की बधाई दी है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: June 5, 2019, 1:00 PM IST
यूपी के CM योगी आदित्यनाथ को पीएम मोदी ने इस अंदाज में दी जन्मदिन की बधाई
पीएम मोदी और सीएम योगी. (फाइल फोटो)
News18 Uttar Pradesh
Updated: June 5, 2019, 1:00 PM IST
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्‍तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को उनके जन्मदिन के मौके पर ट्वीट करके बधाई दी है. यूपी के मौजूदा मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज 47 साल के हो गए हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लिखा, ' उत्तर प्रदेश के गतिशील मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ जी को उनके जन्मदिन पर बधाई. योगी जी ने उत्तर प्रदेश को बदलने में सराहनीय काम किया है, विशेषकर कृषि, उद्योग जैसे क्षेत्रों में और साथ ही कानून-व्यवस्था को बेहतर बनाया है. मैं उनके लंबे और स्वस्थ जीवन के लिए प्रार्थना करता हूं.


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा गृहमंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट करके बधाई दी है.
Loading...

गृहमंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने लिखा, 'उत्तर प्रदेश को सुशासन और विकास के पथ पर अग्रसर करने वाले प्रदेश के लोकप्रिय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी को जन्मदिन की शुभकामनाएं. मैं आशा करता हूं कि आपके नेतृत्व में उत्तर प्रदेश प्रगति के नित नये मापदंड स्थापित करेगा. आपकी दीघार्यु व उत्तम स्वास्थ्य की कामना करता हूं.'



रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने लिखा, 'उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी को जन्मदिवस की ढेरों शुभकामनाएं. योगी जी के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश विकास एवं सुशासन के पथ पर तेजी से अग्रसर है. मैं उनके उत्तम स्वास्थ्य एवं दीघार्यु की प्रभु से कामना करता हूं.'



इसके अलावा उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने भी उन्हे बधाई दी है.

उन्होंने ट्वीट किया, 'उत्तर प्रदेश के यशस्वी मुख्यमंत्री माननीय श्री योगी आदित्यनाथ जी को उनके जन्मदिन की हार्दिक बधाई एवं अनंत शुभकामनाएं. ईश्वर से प्रार्थना है कि आप दीघार्यु हों और सदैव स्वस्थ एवं प्रसन्न रहें.'



हालांकि योगी अपना जन्म दिन नहीं मनाते,क्‍योंकि नाथ पंथ की परंपरा के अनुसार, संन्यास लेने के बाद योगी का दूसरा जन्म हो जाता है. इसके बाद उनका पहले जन्म से कोई वास्ता नहीं रहा.

किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं योगी
यूपी के मौजूदा मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं. मूल रूप से उत्तराखंड के राजपूत परिवार में जन्मे आदित्यनाथ का असली नाम अजय सिंह हैं और गोरखपुर से लगातार पांच बार बीजेपी के सांसद रहे हैं. पहली बार उन्होंने 1998 में लोकसभा का चुनाव जीता था तब उनकी उम्र 26 साल थी. योगी आदित्यनाथ इस वक्‍त यूपी के सीएम होने के अलावा गोरखपुर के गोरखनाथ मठ के महंत भी हैं. जबकि उनका एक धार्मिक संगठन हिंदू युवा वाहिनी भी चलता है, जिसका पूर्वी उत्तर प्रदेश में खासा दबदबा है.

उत्तराखंड से संबंध रखते हैं योगी
5 जून 1972, उत्तराखंड (तब उत्तर प्रदेश था) के पौड़ी जिला स्थित यमकेश्वर तहसील के पंचूर गांव के राजपूत परिवार में योगी आदित्यनाथ का जन्म हुआ था. 1977 में टिहरी के गजा के स्थानीय स्कूल में पढ़ाई शुरू की. स्कूल और कॉलेज सर्टिफिकेट में इनका नाम अजय मोहन बिष्ट है. टिहरी के गजा स्कूल से दसवीं की परीक्षा पास की. इसके बाद 1989 में ऋषिकेश के भरत मंदिर इंटर कॉलेज से इंटरमीडिएट की परीक्षा पास की. वहीं, 1990 में ग्रेजुएशन की पढ़ाई करते हुए एबीवीपी से जुड़े. जबकि 1992 में कोटद्वार के गढ़वाल यूनिवर्सिटी से गणित में बीएससी की परीक्षा पास की. योगी आदित्यनाथ 1993 में एमएससी की पढ़ाई के दौरान गुरु गोरखनाथ पर रिसर्च करने गोरखपुर आए. यहां गोरक्षनाथ पीठ के महंत अवैद्यनाथ की नजर उन पर पड़ी. इसके बाद योगी आदित्यनाथ 1994 में सांसारिक मोहमाया त्यागकर पूर्ण संन्यासी बन गए और फिर अजय मोहन बिष्ट का नाम योगी आदित्यानाथ हो गया.

योगी आदित्‍यनाथ का अभिभादन करते संत.(फाइल फोटो)


योगी आदित्यानाथ का राजनीतिक जीवन
योगी आदित्यनाथ ने 1998 में सबसे पहले गोरखपुर से भाजपा प्रत्याशी के तौर पर चुनाव लड़ा और जीत दर्ज की. तब उनकी उम्र महज 26 साल थी. इसके बाद योगी आदित्यनाथ गोरखपुर से दोबारा सांसद चुने गए. योगी आदित्यनाथ ने अप्रैल 2002 में हिंदू युवा वाहिनी बनाई. हिंदू वाहिनी बनने के बाद 2004 में हुए लोकसभा चुनाव में उन्‍होंने तीसरी बार चुनाव में जीत दर्ज की. 7 सितंबर 2008 में सांसद योगी आदित्यनाथ पर आजमगढ़ में जानलेवा हमला हुआ था. इस हमले में वे बाल-बाल बचे थे. इसके बाद 2009 में हुए लोकसभा चुनाव में वह 2 लाख से ज्यादा वोटों से जीतकर लोकसभा पहुंचे.

जबकि 2014 में हुए लोकसभा चुनाव में मोदी के नेतृत्व में योगी आदित्यनाथ ने पांचवी बार गोरखपुर से चुनाव लड़ा और एक बार फिर से दो लाख से ज्यादा वोटों से जीतकर सांसद चुने गए. 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी को प्रचंड बहुमत मिला था. इसके बाद 2015 में यूपी की 12 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव हुए. इसमें योगी आदित्यनाथ से पार्टी ने काफी प्रचार कराया, लेकिन परिणाम कुछ खास नहीं रहा.

2017 में विधानसभा चुनाव में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने एक बार फिर उन पर भरोसा जताया और पूरे राज्य में प्रचार कराया. जिसके परिणामस्वरूप बीजेपी ने यूपी में प्रचंड बहुमत से जीत दर्ज की. 19 मार्च 2017 को उत्तर प्रदेश के बीजेपी विधायक दल की बैठक में योगी आदित्यनाथ को विधायक दल का नेता चुनकर मुख्यमंत्री बना दिया गया. 20 मार्च 2017 को उन्‍होंने देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली. जबकि इसके बाद से वह भारतीय जनता पार्टी के स्‍टार प्रचारकों में शामिल हो गए हैं.

ये भी पढ़ें-

मायावती पर रामगोपाल का पलटवार, 'यादव वोट नहीं करते तो BSP को मिलतीं सिर्फ 4 सीटें'

'जब मायावती बीजेपी की नहीं हुई तो अखिलेश की क्या होंगी'

SP-BSP गठबंधन का अंत: UP में अब विपक्षी दलों के बीच 'तू बड़ा या मैं' की होड़
एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 5, 2019, 9:01 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...