लाइव टीवी

रामगोपाल यादव के बयान पर PM मोदी बोले- विरोधी दल बार-बार करते हैं सेना की बेइज्जती

News18 Uttar Pradesh
Updated: March 22, 2019, 12:00 PM IST
रामगोपाल यादव के बयान पर PM मोदी बोले- विरोधी दल बार-बार करते हैं सेना की बेइज्जती
पीएम नरेंद्र मोदी. (फाइल फोटो)

पुलवामा हमले को समाजवादी पार्टी नेता रामगोपाल यादव द्वारा साजिश करार दिए जाने पर पीएम नरेंद्र मोदी ने निशाना साधा है.

  • Share this:
पुलवामा हमले को समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय महासचिव रामगोपाल यादव द्वारा साजिश करार दिए जाने पर घमासान मच गया है. पीएम नरेंद्र मोदी ने रामगोपाल यादव के बयान पर निशाना साधा है.

पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा कि विपक्ष आतंकवाद का समर्थन करने और सशस्त्रबलों से सवाल करने का आदी हो गया है. रामगोपाल यादव जैसे वरिष्ठ नेता का बयान उन सबकी बेइज्जती है जिन्होंने कश्मीर को बचाने के लिए अपनी जान दे दी. यह हमारे शहीदों के परिवारों का अपमान है.

वहीं, रामगोपाल यादव के बयान पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जवानों के शौर्य पर सवाल खड़ा करना बेहद शर्मनाक है. उन्होंने इस बयान को जवानों के मनोबल को तोड़ने की एक साजिश बताया. सीएम योगी ने कहा कि रामगोपाल यादव को देश से माफी मांगनी चाहिए.बताते चलें कि रामगोपाल यादव ने एक चौंकाने वाला बयान दिया है. रामगोपाल यादव ने पुलवामा में सीआरपीएफ जवानों के काफिले पर हुए आतंकी हमले को साजिश करार दिया है. उन्होंने कहा कि वोट की खातिर जवानों को मार दिया गया. जब सरकार बदलेगी तब इस प्रकरण की जांच की जाएगी, तब बड़े-बड़े लोग इसमें फंसेंगे.

रामगोपाल यादव ने गुरुवार को सैफई में होली समारोह में बोलते हुए कहा, "पैरामिलिट्री फोर्स सरकार से दुखी है. वोट के लिए जवान मार दिए गए. जम्मू-श्रीनगर के बीच चेकिंग नहीं की थी. जवानों को साधारण बस में भेजा गया, ये साजिश थी.” उन्होंने कहा, “ इस साजिश के बारे में अभी कुछ नहीं कहना चाहता, जब सरकार बदलेगी, इस मामले की जांच होगी और बड़े-बड़े लोग फंसेंगे."

ये भी पढ़ें: 

लोकसभा चुनाव 2019: BJP ने उम्मीदवारों की पहली लिस्ट की जारी, PM मोदी वाराणसी से लड़ेंगे चुनाव

लोकसभा चुनाव: बीजेपी की पहली लिस्ट में यूपी के इन 6 सांसदों का टिकट कटा

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 22, 2019, 12:00 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर