Home /News /uttar-pradesh /

pm narendra modi to inaugurate bundelkhand expressway next week built 8 months early and rs 1132 crore saved

बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे 8 महीने पहले ही बनकर तैयार, 1132 करोड़ की हुई बचत, पीएम मोदी अगले हफ्ते करेंगे उद्घाटन

 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जालौन जिले के खतेरी गांव पहुंचकर बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे का उद्घाटन करेंगे. (फोटो- News18)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जालौन जिले के खतेरी गांव पहुंचकर बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे का उद्घाटन करेंगे. (फोटो- News18)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 29 फरवरी 2020 को बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे का शिलान्यास किया था. 296 किलोमीटर लंबा यह एक्सप्रेस-वे महज 28 महीनों में ही बनकर तैयार हो गया, जबकि इसके लिए 36 महीनों का लक्ष्य तय किया गया था. इस एक्सप्रेस-वे के निर्माण में योगी आदित्यनाथ सरकार ने करीब 1,132 करोड़ रुपये की बचत भी की है, जो कि कुल अनुमानित लागत का 12.72% है.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अगले हफ्ते 12 जुलाई को आगरा-बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन करने वाले हैं. इसके साथ ही उत्तर प्रदेश को पांचवां एक्सप्रेस-वे मिल जाएगा, जो कि बुंदेलखंड के दूरस्थ इलाकों को जोड़ने का काम करेगा. पीएम मोदी ने 29 फरवरी 2020 को इस एक्सप्रेस-वे का शिलान्यास किया था. 296 किलोमीटर लंबा यह एक्सप्रेस-वे महज 28 महीनों में ही बनकर तैयार हो गया, जबकि इसके लिए 36 महीनों का लक्ष्य तय किया गया था. कोरोना काल के दौरान लगी पाबंदियों के बावजूद यह प्रोजेक्ट तय समय से पहले ही पूरा हो गया.

इस एक्सप्रेस-वे के निर्माण में योगी आदित्यनाथ सरकार ने करीब 1,132 करोड़ रुपये की बचत भी की है, जो कि कुल अनुमानित लागत का 12.72% है. अभी चार लेन में बने बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे को आगे चलकर छह लेन तक बढ़ाने की योजना है. यह एक्सप्रेस-वे राज्य के सात जिलों को जोड़ता है, जिसमें 13 इंटरचेंज प्वाइंट होंगे.

इस नए एक्सप्रेस-वे की एक और खासियत यह भी है कि यह आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे से इटावा के पास जुड़ेगा, जिससे दिल्ली-एनसीआर के साथ लखनऊवालों को भी बुंदेलखंड तक सीधा रूट मिल जाएगा.

बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे राज्य में बनने वाले डिफेंस कॉरिडोर की सफलता के लिए भी बेहद अहम है. बांदा और जालौन जिले में इंडस्ट्रियल कॉरिडोर के लिए काम भी शुरू हो चुका है. वहीं दूसरी ओर चित्रकूट में यह एक्सप्रेस राष्ट्रीय राजमार्ग 35 पर खत्म हो रहा है, जो झांसी को प्रयागराज से जोड़ता है.

यूपी एक्सप्रेस-वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण के सीईओ अश्विनी कुमार अवस्थी कहते हैं, ‘यह नया एक्सप्रेस-वे सामाजिक और आर्थिक विकास के अलावा कृषि, पर्यटन और उद्योग के क्षेत्र में आय बढ़ाने के साथ-साथ बुंदेलखंड क्षेत्र के सर्वांगीण विकास में मदद करेगा. यह दिल्ली-एनसीआर के लिए इंडस्ट्रियल कॉरिडोर के रूप में भी काम करेगा.’

इस नए एक्सप्रेस-वे के पास झांसी और चित्रकूट में डिफेंस कॉरिडोर की दो इकाइयां बनाई जाएंगी. पिछले साल 19 नवंबर को पीएम मोदी ने झांसी में भारत डायनेमिक्स लिमिटेड (BDL) यूनिट की आधारशिला रखी थी, जिसमें पहले फेस के लिए 400 करोड़ रुपये का निवेश प्रस्तावित है.

बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे यूपी का पांचवां एक्सप्रेस-वे होगा. इससे पहले राज्य में नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस-वे, ग्रेटर नोएडा को आगरा से जोड़ने वाला यमुना एक्सप्रेस-वे, फिर 302 किलोमीटर लंबा आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे और लखनऊ को गाजीपुर से जोड़ने वाला 341 किलोमीटर लंबा पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे, जिसका पीएम मोदी ने पिछले साल उद्घाटन किया था. इसके साथ प्रयागराज से मेरठ के बीच 594 लंबे गंगा एक्सप्रेस-वे पर भी काम तेज़ी चल रहा है.

Tags: Bundelkhand Expressway, Narendra modi, Yogi Adityanath Government

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर