शायर मुनव्वर राणा का बड़ा बयान, बोले- योगी सरकार के राज में होती है अजीब सी उलझन

ओवैसी जैसों ने हिन्दू-मुसलमानों के बीच बढ़ाई दूरियां- राणा
ओवैसी जैसों ने हिन्दू-मुसलमानों के बीच बढ़ाई दूरियां- राणा

शायर मुनव्वर राणा (Poet Munawwar Rana) ने योगी सरकार (Yogi Government) को लेकर बड़ा बयान दिया है. उन्‍होंने कहा कि यूपी के हालात अच्‍छे नहीं और यहां अजीब सी उलझन होती है.

  • Share this:
लखनऊ. देश के मशहूर शायर मुनव्वर राणा (Poet Munawwar Rana) ने उत्‍तर प्रदेश की योगी सरकार (Yogi Government) पर जमकर निशाना साधा है. उन्‍होंने कहा कि यूपी सरकार में हालात अच्छे नहीं हैं. पहली बार बकरीद पर पुलिस ने पैसा लेकर कुर्बानी करने दी. मुनव्वर राणा ने आगे कहा कि योगी सरकार में अजीब सी उलझन होती है. अगर मुझे भी अरेस्ट करेंगे तो एनएसए (NSA) लगा देंगे. वह बता देंगे मुझसे भी देश को खतरा है.

पीएम और सीएम को लेकर कही ये बात
इसके अलावा शायर मुनव्वर राणा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ को कमजोर आंखों का नहीं होना चाहिए. हुकूमत ने पुलिस को खुली छूट दे रखी है. साथ ही कहा कि भाजपा और ओवैसी की आईटी सेल मुझे बहुत गालियां देती है. जबकि आज ही एक शख्स ने मुझे फोन कर गंदी गालियां दी हैं.

ओवैसी जैसों ने हिंदू-मुसलमानों के बीच बढ़ाई दूरियां
शायर मुनव्वर राणा ने कहा कि ओवैसी जैसों ने हिंदू-मुसलमानों के बीच दूरियां बढ़ाई हैं. पहले मैं खुद रामलीला और कुंभ मेले में जाता था. हमने अयोध्या जाकर चढ़ावा भी चढ़ाया है. मेरा भी अयोध्या दीपोत्सव में जाने का मन होता है, लेकिन अब पुलिस मुझे दीपोत्सव में जाने की इजाजत नहीं देगी. पहले हम शान से जाते थे, लेकिन आज डर लगता है. साथ ही कहा कि हम खुद को हिंदुओ का सबसे अच्छा दोस्त साबित करना चाहते हैं. जबकि ओवैसी जैसों ने हिंदू-मुसलमानों के बीच दूरियां बढ़ाई हैं.



इसके अलावा राणा ने कहा कि हमने हर मदरसे से 10 बोतल खून सेना को देने की अपील की थी. हम मुल्क के लिए करते कुछ नहीं, हुकूमत से मांगते बहुत कुछ हैं. हमारे 80 फीसदी दोस्त हिंदू हैं और बुरे वक्त में हमारी मदद मुसलमानों के बजाए हिंदुओं ने की है. योगी सरकार थोड़ा अपना रुख बदले, तेजाब ज्यादा हो गया है. सरकार अपने लहज़े, गुफ्तगू और लिखा पढ़ी में तेजाब कम कर दे.

मुनव्वर राणा ने कही थी ये बात
मुनव्वर राणा ने कहा कि पैगंबर मोहम्मद साहब का कार्टून बना कर उसे कत्ल के लिए मजबूर किया गया. उन्होंने कहा कि विवाद को जन्म देकर लोगों को उकसाया गया. राणा ने दावा करते हुए कहा कि कोई अगर भगवान राम का विवादित कार्टून बनाएगा मैं उसका कत्ल कर दूंगा. मुनव्वर राणा ने तर्क देते हुए कहा कि अगर मजहब मां के जैसा है, अगर कोई आपकी मां का, या मजहब का बुरा कार्टून बनाता है या गाली देता है तो वो गुस्से में ऐसा करने को मजबूर है. उन्होंने कहा कि मुसलमानों को चिढ़ाने के लिए ऐसा कार्टून बनाया गया.

ये है पूरा मामला
उल्लेखनीय है कि यह पूरा विवाद पेरिस के उपनगरीय इलाके में एक शिक्षक की हत्या के बाद शुरू हुआ, जिसने पैगंबर मोहम्मद के कार्टून अपने विद्यार्थियों को दिखाए. बाद में उसकी सिर काटकर हत्या कर दी गई. शिक्षक की हत्या के बाद फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों की ओर से की गई विवादित टिप्पणी को लेकर मुस्लिम देशों के बीच फ्रांस के खिलाफ माहौल बनता जा रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज