UP: कोरोना के सहारे मिशन 2022 की तैयारी में जुटे राजनीतिक दल!
Lucknow News in Hindi

UP: कोरोना के सहारे मिशन 2022 की तैयारी में जुटे राजनीतिक दल!
कोरोना के सहारे मिशन 2022 की तैयारी में जुटे राजनीतिक दल (file photo)

बीजेपी के महामंत्री विजय बहादुर पाठक (Vijay Bahadur Pathak) कहते हैं कि जिसको राजनीति करनी हो वो करे हमें चिंता कोरोना काल के पीड़ितों की है, जिसकी कठिनाइयों को दूर करने के लिए सरकार और संगठन रात दिन काम कर रहा हैं.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
लखनऊ. कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते पूरे देश में लॉकडाउन (Lockdown) घोषित है. इस बीच कोरोना काल में सेवा को माध्यम बना सभी राजनीतिक दल (Political Parties) अपना ग्राफ ठीक करने में जुट गए हैं. सामने मिशन 2022 है, इसके लिए सत्ताधारी दल बीजेपी हो या विपक्षी पार्टियां सभी जमीन पर उतर चुकी हैं. सबसे आगे बीजेपी है, तो समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के कार्यकर्ता भी जमीन पर नजर आने लगे हैं. दूसरी तरफ बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख भी तकनीक के माध्यम से सक्रिय है. योगी सरकार के तीन साल बीत चुके हैं. ऐसे में मिशन 2022 के लिए भी उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है.

सेवा ही सबसे बड़ा धर्म-बीजेपी

कोरोना संक्रमण के चलते सामूहिक आयोजन पर रोक लगी है, ऐसे में राजनीतिक पार्टियों को अपनी राजनीति को धार भी देनी है, तैयारी सबकी चल रही है. जहां एक तरफ कोरोना संक्रमण को सभी राजनीतिक दल सेवाकाल घोषित कर चुके हैं. सबसे पहले सत्ताधारी पार्टी बीजेपी की बात करें, तो सरकार की योजनाओं के माध्यम से जनता के बीच उनके कार्यकर्ता मौजूद हैं. योजनाओं का लाभ दिलाने के लिए संगठन लगातार अपने कार्यकर्ताओं को आगे बढ़ा रहा है. बीजेपी के नेता लगातार कार्यकर्ताओं के संपर्क में है ताकि सेवा का राजनीतिक फायदा मिले.



मददगारों पर दर्ज हुए मुकदमें- सपा



बीजेपी के महामंत्री विजय बहादुर पाठक कहते हैं कि जिसको राजनीति करनी हो वो करे हमें चिंता कोरोना काल के पीड़ितों की है, जिसकी कठिनाइयों को दूर करने के लिए सरकार और संगठन रात दिन काम कर रहा हैं. सपा नेता सुनील साजन कहते हैं कि उनके कार्यकर्ताओं द्वारा की जा रही मदद पर सरकार की कुदृष्टि है. मददगारों पर सरकार लॉकडाउन उल्लंघन का मामला दर्ज करा रही है. कांग्रेस भी जीतोड़ मेहनत कर रही है कि कैसे जमीन पर उनका काम दिखे. इसी सिलसिले में प्रियंका गांधी की तरफ से श्रमिकों की सहायता के लिए बसों की पेशकश भी की गई, जिसपर जमकर सियासत हुआ.

प्रदेश अध्यक्ष को भेजा जेल- कांग्रेस

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू लॉकडाउन उल्लंघन के मामले में गिरफ्तार कर लिए गए और फिलहाल 14 दिन के लिए जेल में क्वारांटाइन हैं. कांग्रेस नेता सुरेंद्र राजपूत कहते हैं कि कांग्रेस का ध्येय सेवा करना है. लाखों लोगों के लिए हमारे कार्यकर्ता मददगार बने हैं. सरकार मददगारों को रोकने में लगी है. यहां तक कि हमारे प्रदेश अध्यक्ष पर भी एफआईआर कराकर जेल भेज दिया गया है. उत्तर प्रदेश की प्रमुख पार्टियों में से एक बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती भी तकनीक के माध्यम से अपन उपस्थिति दर्ज करा रही हैं, और सियासत को मोड़ने में प्रमुख भूमिका निभा रही.

ये भी पढे़ं:

प्रयागराज: एक लाख प्रवासी कामगारों के आने से ग्रामीण क्षेत्रों में बढ़ा चार गुना संक्रमण!

 
First published: May 24, 2020, 9:53 AM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading