Home /News /uttar-pradesh /

AU कुलपति की लाउडस्पीकर से अजान पर चिट्ठी को लेकर सियासत शुरू, सपा ने बताया BJP को साजिश

AU कुलपति की लाउडस्पीकर से अजान पर चिट्ठी को लेकर सियासत शुरू, सपा ने बताया BJP को साजिश

समाजवादी पार्टी ने इलाहाबाद यूनिवर्सिटी की कुलपति के पत्र पर ट्वीट किया है.

समाजवादी पार्टी ने इलाहाबाद यूनिवर्सिटी की कुलपति के पत्र पर ट्वीट किया है.

Lucknow News: इलाहाबाद सेंट्रल यूनिविर्सटी (Allahabad Central University) की कुलपति प्रोफेसर संगीता श्रीवास्तव के लाउडस्पीकर से अजान के संबंध में लिखे गए पत्र को समाजवादी पार्टी ने भाजपा की साजिश बताया है.

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के प्रयागराज (Prayagraj) में मस्जिद में लाउडस्पीकर से अजान को लेकर इलाहाबाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी (Allahabad Central University) की कुलपति प्रोफेसर संगीता श्रीवास्तव के पत्र को लेकर भले ही मस्जिद की कमेटी ने सकारात्मक रुख दिखाया हो. और मामले में दो लाउस्पीकर हटाते हुए बाकी के दो लाउडस्पीकर की आवाज 50 प्रतिशत तक कम कर दी है साथ ही लाउडस्पीकर का रुख भी कुलपति आवास से हटा दिया गया है. लेकिन इस मसले पर सियासी बयानबाजी शुरू हो गई है. समाजवादी पार्टी ने इसी क्रम में कुलपति के पत्र को भाजपा की ही साजिश करार दिया है. सपा का कहना है कि ध्यान भटकाने के लिए भाजपा अपने लोगों से समय-समय पर नफरत की आग लगवाती है.

समाजवादी पार्टी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया है, “बेरोजगारी, बदहाल स्वास्थ्य सेवाओं, शिक्षा व्यवस्था, बेलगाम अपराध, ध्वस्त कारोबार से ध्यान भटकाने के लिए अपने लोगों से समय-समय पर नफरत की आग लगवाती है भाजपा सरकार. इलाहाबाद यूनिवर्सिटी कुलपति द्वारा अजान के खिलाफ कमिश्नर को लिखी चिट्ठी इसी का हिस्सा है, घोर निंदनीय!”



इससे पहले कुलपति प्रोफेसर संगीता श्रीवास्तव के पत्र पर मस्जिद के इंतजामिया कमेटी के सदस्य मोहम्मद कलीम ने कहा कि लाउडस्पीकर की आवाज धीमी कर दी गई है. चार लाउडस्पीकर के बजाय अब दो लाउडस्पीकर लगाए गए हैं. यही नहीं लाउडस्पीकर का रुख भी वीसी के आवास से विपरीत दिशा में कर दिया गया है.

सपा का ट्वीट 

Samajwadi party tweet Azan
समाजवादी पार्टी का इलाहाबाद यूनिवर्सिटी की कुलपति के पत्र पर ट्वीट


उन्होंने बताया कि इंतजामिया कमेटी ने तय किया है कि अब 50 फ़ीसदी वॉल्यूम में ही लाउडस्पीकर से अजान दी जाएगी. कमेटी ने वीसी संगीता श्रीवास्तव से खेद भी जताया है और कहा है कि उन्हें कोई तकलीफ नहीं होने दी जाएगी. यही नहीं प्रयागराज वापस लौटने पर बातचीत कर उन्हें संतुष्ट भी किया जाएगा.

कुलपति का पत्र

बता दें कुलपति प्रोफेसर संगीता श्रीवास्तव ने पत्र में कहा है कि रोज सुबह लगभग साढ़े पांच बजे मस्जिद में अजान होती है. अल सुबह मस्जिद के लाउडस्पीकर से गूंजने वाली अजान की आवाज से नींद में खलल पड़ रही है. अजान से उनकी नींद इस तरह बाधित हो जाती है कि उसके बाद तमाम कोशिश के बाद भी वह सो नहीं पातीं. इस वजह से उन्हें दिनभर सिरदर्द बना रहता है और कामकाज भी प्रभावित होता है.

पत्र में कहावत का भी जिक्र

पत्र में एक पुरानी कहावत का भी उल्लेख किया गया है. उन्होंने लिखा है, 'आपकी स्वतंत्रता वहीं खत्म हो जाती है, जहां से मेरी नाक शुरू होती है.’ कुलपति ने पत्र में यह भी स्पष्ट किया है कि वह किसी सम्प्रदाय, जाति या वर्ग के खिलाफ नहीं हैं. वह अपनी अजान लाउडस्पीकर के बगैर भी कर सकते हैं, ताकि दूसरों की दिनचर्या प्रभावित न हो.

Tags: Allahabad university, Loudspeaker free shrines, Lucknow news, Masjid, Namaz, Samajwadi party, Uttarpradesh news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर