तीन तलाक के मुद्दे पर योगी सरकार ने उठाया सकारात्मक कदम: रीता बहुगुणा जोशी
Lucknow News in Hindi

तीन तलाक के मुद्दे पर योगी सरकार ने उठाया सकारात्मक कदम: रीता बहुगुणा जोशी
महिला कल्याण मंत्री रीता बहुगुणा जोशी की फोटो

यूपी में योगी सरकार के 6 महीनों में महिला कल्याण विभाग ने अभूतपूर्व काम करने का दावा किया है. महिला कल्याण और सुरक्षा को अपनी प्राथमिकता बताने वाली योगी सरकार ने तीन तलाक को लेकर बड़ा कदम उठाया. जिसके सकारात्मक नतीजे भी सामने आए.

  • Share this:
यूपी में योगी सरकार के 6 महीनों में महिला कल्याण विभाग ने अभूतपूर्व काम करने का दावा किया है. महिला कल्याण और सुरक्षा को अपनी प्राथमिकता बताने वाली योगी सरकार ने तीन तलाक को लेकर बड़ा कदम उठाया. जिसके सकारात्मक नतीजे भी सामने आए.

योगी सरकार ने पिछले 6 महीनों में महिलाओं को बेहतर माहौल देने के लिए कई बड़ी योजनाओं की शुरुआत की. जैसे 1090 की समीक्षा के साथ ही नई महिला हेल्पलाईन 181 की शुरुआत की गई. प्रदेश भर में मुसीबत में फंसी महिलाओं की त्वरित मदद के लिए रेस्क्यू वैन्स को सीएम योगी ने खुद हरी झंडी दिखकर रवाना किया था.

तीन तलाक से निजात



वहीं पहली बार सरकार ने मुस्लिम महिलाओं को तीन तलाक से निजात दिलाने के लिए सु्प्रीम कोर्ट में महिलाओं की पैरोकारी करने की बात की. इस मुद्दे को लेकर सैकड़ों मुस्लिम महिलाओं ने खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तक अपनी आवाज़ पंहुचायी.
तीन तलाक के मुद्दे पर कोर्ट में रखा पक्ष

मुस्लिम महिलाओं के प्रतिनधिमंडल ने मुख्यमंत्री और महिला कल्याण मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने मुलाकात कर तीन तलाक के मुद्दे पर गहन मंत्रणा की. सुप्रीम कोर्ट में सरकार इन महिलाओं का पक्ष रखा और तीन तलाक पर ऐतिहासिक रोक के सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद मुस्मिल महिलाओं का भरोसा योगी सरकार पर बढ़ा है.

एंटी रोमियो स्कवाड का गठन

महिला कल्याण मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने बताया कि योगी सरकार ने महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराधों को रोकने के लिए योजनाएं लांच की. एंटी रोमियो स्कवाड इनमें से एक है. साथ ही घरेलू हिसा की शिकार सभी महिलाओं को रानी लक्ष्मी बाई कल्याण कोष के तहत राहत देने की बात भी की जा रही है.

कन्या भ्रूण हत्या

महिलाओं के साथ होने वाले शोषण के खिलाफ 1090 सेन्टर पहले की तरह ही काम कर रहा है. जिसके साथ केन्द्र सरकार की आपकी सखी योजना के विस्तार के तहत 181 कॉल सेन्टर की भी शुरूआत की गई.वहीं कन्या भ्रूण हत्या को राकने के लिए भी सरकार ने मुखबिर योजना की शुरूआत की है जिसके तहत कन्या भ्रूण हत्या और लिंग परीक्षण करने की सूचना देने वाले को 2 लाख रूपये तक का इनाम दिया जाएगा.

इन योजनाओं के अलावा योगी सरकार ने बच्चियों के जन्म पर धनलक्ष्मी योजना के तहत 50 हज़ार रुपये तक के बॉण्ड्स देने की भी शुरूआत की है. वहीं गरीब बच्चियों को पढ़ाई के लिए आर्थिक मदद देने की भी बात कही जा रही है. मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने बताया कि महिलाओं में योगी सरकार के लिए विश्वास जागा है.

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading