Home /News /uttar-pradesh /

प्रवीण तोगड़िया का अल्टीमेटम- अक्टूबर तक राम मंदिर नहीं बना तो करेंगे अयोध्या कूच

प्रवीण तोगड़िया का अल्टीमेटम- अक्टूबर तक राम मंदिर नहीं बना तो करेंगे अयोध्या कूच

(फाइल फोटो- प्रवीण तोगड़िया)

(फाइल फोटो- प्रवीण तोगड़िया)

अंतरराष्‍ट्रीय हिंदू परिषद बनाने वाले प्रवीण तोगड़िया ने कहा कि केंद्र सरकार सोमनाथ की तर्ज पर कानून बनाकर अयोध्या में राम मंदिर बनाए.

    विश्‍व हिंदू परिषद के पूर्व नेता प्रवीण तोगड़िया ने अपने नए संगठन अंतरराष्‍ट्रीय हिंदू परिषद का ऐलान कर दिया है. प्रवीण तोगड़िया के अनुसार इस नए संगठन को साथ लेकर वह मंगलवार को ही अयोध्या पहुंचेगे. अयोध्या में संतों से आर्शीवाद लेंगे.

    मंगलवार को लखनऊ पहुंचे प्रवीण तोगड़िया ने प्रेस कांफ्रेंस कर बताया कि उन्होंने राम मंदिर निर्माण को लेकर सुप्रीम कोर्ट के विशेषज्ञ वकीलों की सहायता से श्रीराम जन्मस्थान मंदिर विधेयक 2018 बनाया है, जिसे वह राष्ट्रहित में जारी कर रहे हैं.

    यह भी पढ़ें: VHP के खिलाफ प्रवीण तोगड़िया ने बनाया नया संगठन, कहा- टीम बदली है तेवर नहीं

    प्रवीण तोगड़िया ने कहा कि केंद्र सरकार सोमनाथ की तर्ज पर कानून बनाकर अयोध्या में राम मंदिर बनवाए. भाजपा ने राष्ट्रीय कार्यकारिणी में प्रस्ताव पास किया था. यही नहीं चुनावी घोषणा पत्र में भी भाजपा ने इसे शामिल किया. 2014 से पूर्ण बहुमत की सरकार है.  तोगड़िया ने कहा कि मैंने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के बड़े अधिकारियों के साथ बैठकर संसद में कानून बनाने की मांग की. संतों ने प्रधानमंत्री से संसद में कानून बनाने को लेकर मुलाकात की, लेकिन प्रधानमंत्री ने संतों की बात नहीं मानी.

    तोगड़िया ने कहा कि आज 4 साल हो गए. 4 साल में राम मंदिर के लिए संसद में कानून नहीं बना. यह हिंदुओं के साथ विश्वासघात है. भगवान राम के साथ विश्वासघात है. तोगड़िया ने कहा कि हो सकता है मेरे बड़े भाई नरेंद्र मोदी को विदेश घूमने के कारण संसद में कानून बनाने का समय नहीं मिल रहा होगा. इसलिए हमने संतों के आशीर्वाद से सुप्रीम कोर्ट के बड़े अधिवक्ताओं द्वारा राम मंदिर निर्माण के कानून का प्रस्ताव बनाया है. इसे मैं आज रिलीज कर रहा हूं. इसे हम अयोध्या में भगवान रामलला के चरण में रखेंगे.

    यह भी पढ़ें: तोगड़िया बोले- राम मंदिर, मथुरा, काशी विश्वनाथ तीनों लेंगे एक साथ!

    प्रवीण तोगड़िया ने कहा कि अंतररष्ट्रीय हिन्दू परिषद की स्थापना करके आज मैं राम लाला के दर्शन करने अयोध्या जा रहा हूं. उन्होंने कहा कि बीजेपी का तो दिल्ली में कई करोड़ों का घर बन गया है लेकिन भगवान राम टाट के झोपड़पट्टी से अभी तक अपने घर में नहीं आए. प्रवीण तोगड़िया ने कहा कि इस ड्राफ्ट को मैं भारत के प्रधानमंत्री को भेज रहा हूं.

    उन्होंने कहा कि हमारी मांग है कि राम मंदिर के निर्माण का कानून बनाओ. काशी में ज्ञानवापी हटाओ. समान नागरिक संहिता लागू करो. दो बच्चों का कानून बनाओ. कश्मीर से धारा 370 हटाओ. हम मांग करते हैं कि किसानों को कर्ज से मुक्त करो. स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशों को लागू करो.

    यह भी पढ़ें: 2019 से पहले कभी भी शुरू हो सकता है 'राम मंदिर' निर्माण: वेदांती

    तोगड़िया ने कहा कि हिन्दू कानून ड्राफ्ट लेकर 10 करोड़ हिन्दू, 20 करोड़ हिन्दुओं के घर जाएंगे. उनका हस्ताक्षर लेंगे. तोगड़िया ने कहा कि सरकार के पास 4 महीने का समय है. अगर अक्टूबर तक मंदिर नहीं बना तो यहीं लखनऊ से अयोध्या के लिए कूच करेंगे.

    'बीजेपी और कांग्रेस को बहुमत हिंदुओं की दया पर है, हमें तीसरा विकल्प चाहिए'

    उन्होंने कहा कि जब संसद में बहुमत है तो न्यायालय की बात करना, टालने वाली बात है. हमारे लीडर कोई भगवान शिव, भगवान राम नहीं हैं. मैं और मेरे साथी महन्त अवैद्यनाथ के स्वप्न को पूरा करने जा रहे हैं. तो​गड़िया ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी से हमारे संबंध अच्छे हैं. 2019 में हिन्दू जनता फैसला कर लेगी. बीजेपी और कांग्रेस को बहुमत हिंदुओं की दया पर है.

    मेरा नारा हिन्दुओं का साथ, हिन्दुओं का विकास है. हमें तीसरा विकल्प चाहिए. तोगड़िया ने कहा कि हमें हमें शर्मिंदगी नहीं चाहिए, हमें राम मंदिर चाहिए. हमें काशी, मथुरा चाहिए. कश्मीर में हिंदुओं को बसाने वाली सरकार चाहिए. कश्मीर में आतंकियों के सीने पर गोली नहीं चलाने वाले नहीं चाहिए. जो मलमास की नहीं रमजान की चिंता करते हैं, वह भी नहीं चाहिए.

    ये है मसौदा




    ये भी पढ़ें: 

    राम की कृपा होगी तो बनकर ही रहेगा राम मंदिर: योगी आदित्यनाथ

    अयोध्या: संतों के कुंभ में सजेगी 2019 के रण की बिसात, बीजेपी को समर्थन पर होगा फैसला!

    आपके शहर से (लखनऊ)

    Tags: Ram Mandir Dispute, लखनऊ

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर