मील का पत्थर साबित होगी योगी सरकार की ODOP योजना: रामनाथ कोविंद

राष्ट्रपति कोविंद ने कहा कि विकास और कल्याण के मानदंडों पर पीछे रह गए देश के 117 आकांक्षी जिलों में उत्तर प्रदेश के 8 जिले शामिल हैं.

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 10, 2018, 3:09 PM IST
मील का पत्थर साबित होगी योगी सरकार की ODOP योजना: रामनाथ कोविंद
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने राज्यपाल राम नाईक और सीएम योगी आदित्यनाथ व अन्य के साथ दीप प्रज्ज्वलित कर एक जनपद-एक उत्पाद समिट का शुभारंभ किया.
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 10, 2018, 3:09 PM IST
राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द ने शुक्रवार को लखनऊ के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में पहले 'एक जिला, एक उत्पाद' (वन डिस्ट्रिक्ट, वन प्रोडक्ट) की तीन दिवसीय समिट का उद्घाटन किया. इस मौके पर बोलते हुए राष्ट्रपति ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार की 'एक जनपद, एक उत्पाद योजना' मील का पत्थर साबित होगी. उन्होंने कहा कि उम्मीद है कि इस योजना से युवाओं के लिए बड़े पैमाने पर रोजगार के अवसर उपलब्ध होंगे.

राष्ट्रपति कोविंद ने कहा कि विकास और कल्याण के मानदंडों पर पीछे रह गए देश के 117 आकांक्षी जिलों में उत्तर प्रदेश के 8 जिले शामिल हैं. उन जिलों में 'एक जनपद एक उत्पाद' योजना ‘चेंज-एजेंट’ का काम कर सकती है. 'हमें कुछ विकसित देशों से यह सीखना है कि कैसे, हाथ से बनी हुई चीजों को, आधुनिक ब्रांडिंग और मार्केटिंग के जरिये, विदेशी मुद्रा कमाने, रोजगार बढ़ाने और देश की छवि को निखारने के लिए उपयोग में लाया जा सकता है."

राष्ट्रपति ने कहा कि उन्हें बताया गया है कि 'एक जनपद एक उत्पाद' योजना से पांच वर्ष में 25,000 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता के जरिए 25 लाख लोगों को रोजगार दिलाने का लक्ष्य है. देश की अर्थव्यवस्था में लघु और मध्यम उद्योग रीढ़ साबित हो रहे हैं. यह योजना उस रीढ़ को और मजबूत करेगी.

इस मौके पर बोलते हुए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उत्तर प्रदेश के उत्पादों की ब्रांडिंग की जरूरत पर जोर दिया. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के विकास के बिना भारत का विकास नहीं हो सकता. राष्ट्रपति ने कहा कि मुझे भरोसा है कि ओडीओपी योजना छोटे शहरों और ग्रामीण इलाकों तक उद्यमों के लिए सहायक परिस्थितियां उत्पन्न करेगी. भारत में छोटे तथा मध्यम उद्यमों को अर्थ-व्यवस्था का मेरुदंड कहा जाता है. यह सभी उद्यम समावेशी विकास के इंजन हैं. कृषि क्षेत्र के बाद सबसे अधिक लोग इन्हीं उद्यमों में रोजगार पाते हैं. देश के सर्वाधिक उद्यम उत्तर प्रदेश में हैं.

राष्ट्रपति ने कहा कि यूपी में कई नदियां हैं, सबसे बड़ा रेल नेटवर्क है. ऐसी कई चीजें उत्तर प्रदेश में है जो प्रदेश को सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बना सकता है. उत्तर प्रदेश से चुनाव जो लड़ता है उसे प्रधानमंत्री बनने का मौका मिलता है. उत्तर प्रदेश प्रतिभा वाला प्रदेश है. यह देख मुझे अटल जी की याद आई, वो कहते थे उत्तर प्रदेश उत्तम प्रदेश है, जो इसकी खोज कर लेगा उसे पाता चलेगा की उत्तर प्रदेश कितना संभावनाओ से भरा है.

राष्ट्रपति ने कहा कि विभिन्न क्षेत्रों में उनके असाधारण योगदान के लिए, देश के सर्वोच्च अलंकरण 'भारत-रत्न' से सम्मानित, कुल 45 विभूतियों में से, 11 भारत-रत्नों की जन्म-स्थली या कर्म-स्थली उत्तर प्रदेश में है. यह उत्तर प्रदेश के निवासियों के लिए गर्व की बात है. मैं भी उत्तर प्रदेश का निवासी हूं.

इससे पहले राष्ट्रपति ने कॉफी टेबल बुक का विमोचन करने के साथ ही 4084 उद्यमियों को ऋण वितरण भी किया. इसके अलावा सरकार ने अमेजन जैसी ई-कॉमर्स कंपनियों के साथ एमओयू पर हस्ताक्षर भी किया.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर