लखनऊ में पुजारी ने फांसी लगाकर दी जान, परिजनों ने ग्राम प्रधान और उसके बेटों पर लगाया गंभीर आरोप
Lucknow News in Hindi

लखनऊ में पुजारी ने फांसी लगाकर दी जान, परिजनों ने ग्राम प्रधान और उसके बेटों पर लगाया गंभीर आरोप
लखनऊ में एक पुजारी ने की आत्महत्या

लखनऊ (Lucknow) में काकोरी के बड़ागांव में बने मंदिर के पुजारी शिवनारायण लोधी ने आज फांसी लगाकर जान दे दी. परिजनों ने मामले में ग्राम प्रधान और उनके बेटों पर गंभीर आरोप लगाए. उन्होंने बताया कि मंदिर के बगल में सार्वजनिक शौचालय निर्माण से पुजारी परेशान थे.

  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ (Lucknow) के काकोरी इलाके में एक मंदिर के पुजारी ने फांसी लगाकर जान दे दी. 65 वर्षीय शिवनारायण लोधी का शव आज नीम के पेड़ से लटकता मिला. मामले में पुजारी के परिजनों ने ग्राम प्रधान और उनके बेटों पर गंभीर आरोप लगाए हैं. उनका कहना है कि मंदिर के बगल में सार्वजनिक शौचालय निर्माण से पुजारी आहत थे.

मंदिर के बगल में सार्वजनिक शौचालय बनने से थे आहत: परिजन

काकोरी के बड़ागांव में बने मंदिर के परिसर का ये मामला है. यहां मंदर के पुजारी शिवनारायण लोधी ने आज फांसी लगाकर जान दे दी. सूचना पर पहुंची पुलिस ने जांच शुरू कर दी. वहीं परिजनों ने बताया कि मंदिर के बगल में सार्वजनिक शौचालय निर्माण से वह परेशान थे. उधर मंदिर के बारे में पता चला है कि ग्राम समाज की ज़मीन पर अवैध कब्जा करके इसका निर्माण किया गया था.



बेटी ने लगाया प्रधान पति और उनके बेटों पर धमकाने का आरोप
पुजारी की बेटी तनु ने बताया कि उसके पिता मंदिर के बगल में शौचालय बनवाने का विरोध करते थे. उसने बताया कि कल (बुधवार) रात प्रधान पति और उनके बेटों ने उन्हें इस संबंध में धमकाया भी था. हालांकि मौके से पुलिस को कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है. पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज