प्रियंका गांधी बोलीं- अपने खरबपति मित्रों के लिए किसानों से MSP छीन लेगी BJP सरकार

BJP सरकार अपने खरबपति मित्रों के लिए किसानों से MSP छीन लेगी (File photo)
BJP सरकार अपने खरबपति मित्रों के लिए किसानों से MSP छीन लेगी (File photo)

कृषि अध्यादेशों (Agriculture Bill) के विरोध में प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने यूपी की बीजेपी सरकार पर साधा निशाना. लखनऊ में प्रदर्शन कर रहे कई कांग्रेस (Congress) नेता हुए गिरफ्तार.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 29, 2020, 4:00 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. केंद्र सरकार द्वारा पारित कृषि अध्यादेशों (Agriculture Bill) के विरोध में कांग्रेस की महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi Vadra) ने बीजेपी सरकार पर निशाना साधा है. सोमवार को प्रियंका ने ट्वीट कर लिखा, शहीद भगत सिंह ने कहा था कि शोषणकारी व्यवस्था पूंजीपतियों के फायदे के लिए किसानों मजदूरों का हक छीनती है.' भाजपा सरकार अपने खरबपति मित्रों के लिए किसानों की MSP का हक छीनकर उन्हें बंधुआ खेती में धकेल रही है. किसान विरोधी बिलों के खिलाफ संघर्ष ही भगत सिंह को सच्ची श्रद्धांजलि है.

इधर, कृषि अध्यादेश के विरोध में प्रदर्शन कर रहे प्रदेश कांग्रेस कमेटी (UPCC) के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू (Ajay Kumar Lallu) समेत कई कांग्रेस नेताओं को पुलिस ने आज गिरफ्तार किया. कांग्रेसियों ने बिल के खिलाफ विधानसभा घेराव का एलान किया था. वहीं लखनऊ समेत विभिन्न जिलों में कांग्रेस के नेताओं एवं कार्यकर्ताओं को घरों में नजरबंद किया गया है. इसके अलावा जिले में कई जगह लखनऊ जा रहे कांग्रेसियों को हिरासत में भी लिया गया है. पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रदीप जैन (Pradeep Jain) को आज उत्‍तर प्रदेश पुलिस (Uttar Pradesh Police) ने नजरबंद कर दिया है.






इससे पहले मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने किसान बिल का विरोध करने वालों को किसान विरोधी बताया है. उन्‍होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किसानों की आय दोगुनी करने का जो वादा किया था, ये विधेयक उसी की कड़ी है. यह विधेयक किसानों को बिचौलियों के चंगुल से मुक्त कराएंगे और उन्हें अपनी पसंद के मुताबिक अपने उत्पाद बेचने का विकल्प देते हैं.

उन्होंने विधेयकों का विरोध करने वालों को “किसान विरोधी” करार देते हुए कहा कि विपक्ष लोगों को गुमराह करने की कोशिश कर रहा है, लेकिन उन्हें सफल नहीं होने दिया जाएगा. उन्‍होंने कहा कि जिन लोगों ने किसानों का दोहन किया और प्रवासियों का उपहास किया, जो यह नहीं जानते कि गन्ना जमीन पर उगता है या पेड़ों पर, वे किसानों और श्रमिकों के लिए लड़ने का ढोंग कर रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज