Home /News /uttar-pradesh /

ऐसे कमजोर की आवाज बनेगी कांग्रेस? लखनऊ के हिस्ट्रीशीटर अपराधी सुरेंद्र कालिया को दे दिया टिकट

ऐसे कमजोर की आवाज बनेगी कांग्रेस? लखनऊ के हिस्ट्रीशीटर अपराधी सुरेंद्र कालिया को दे दिया टिकट

लखनऊ के हिस्ट्रीशीटर अपराधी पर कांग्रेस ने लगाया दांव (फाइल फोटो- प्रियंका गांधी और प्रत्याशी सुरेंद्र कालिया)

लखनऊ के हिस्ट्रीशीटर अपराधी पर कांग्रेस ने लगाया दांव (फाइल फोटो- प्रियंका गांधी और प्रत्याशी सुरेंद्र कालिया)

उत्तर प्रदेश (UP Elections) में कांग्रेस (Congress News) ने एक ऐसे शख्स को टिकट दिया है, जो न केवल हिस्ट्रीशीटर रहा है बल्कि वह 50 हजार का इनामी भी रहा है. कांग्रेस ने हरदोई की 8 विधानसभा में से 5 विधानसभा पर अपने प्रत्याशियों का एलान कर दिया है, जबकि 3 विधानसभाओं पर अभी भी प्रत्याशियों के नाम आने बाकी हैं. बरहाल कांग्रेस ने बालामऊ से हिस्ट्रीशीटर रहे सुरेंद्र कुमार उर्फ सुरेंद्र कालिया को अपना प्रत्याशी घोषित किया है.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ: उत्तर प्रदेश (UP Elections) में कांग्रेस (Congress News) ने एक ऐसे शख्स को टिकट दिया है, जो न केवल  हिस्ट्रीशीटर रहा है बल्कि वह 50 हजार का इनामी भी रहा है. कांग्रेस ने हरदोई की 8 विधानसभा में से 5 विधानसभा पर अपने प्रत्याशियों का एलान कर दिया है, जबकि 3 विधानसभाओं पर अभी भी प्रत्याशियों के नाम आने बाकी हैं. बरहाल कांग्रेस ने बालामऊ से हिस्ट्रीशीटर रहे सुरेंद्र कुमार उर्फ सुरेंद्र कालिया को अपना प्रत्याशी घोषित किया है.

कांग्रेस के इस प्रत्याशी पर उठ रहे सवाल
उत्तर प्रदेश में जिस तरह अपराध के खिलाफ कांग्रेस की महासचिव व यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा खड़ी नजर आई हैं, टिकट बंटवारे में उसका उलट रूप देखने को मिला. टिकट बंटवारे के दौरान उन्होंने ऐसे प्रत्याशी को टिकट दे दिया है, जो न सिर्फ हिस्ट्रीशीटर है बल्कि 50000 का इनामी अपराधी भी रहा है. 2021 के सितंबर माह में लखनऊ पुलिस ने सुरेंद्र कालिया को कोलकाता से गिरफ्तार किया था.

सुरेंद्र कालिया लखनऊ का हिस्ट्रीशीटर अपराधी है और अभी हाल ही में माफिया अभय सिंह के इशारे पर खुद पर गोली चलवा कर माफिया धनंजय सिंह को फंसाने के मामले में चर्चा में आया था. सुरेंद्र कालिया जिला पंचायत का सदस्य रह चुका है और जन अधिकार मंच के टिकट पर बालामऊ विधानसभा से चुनाव भी लड़ चुका है, जिसमें उसे करारी हार झेलनी पड़ी थी.

बालामऊ विधानसभा क्षेत्र से घोषित उम्मीदवार सुरेंद्र कालिया का पुराना आपराधिक इतिहास है. 13 जुलाई 2020 को आलमबाग थाने में सुरेंद्र कालिया ने बाहुबली पूर्व सांसद धनंजय सिंह पर जानलेवा हमला करने का मामला दर्ज कराया था. इस मामले की जांच जब पुलिस ने शुरू की तो पता चला कि सुरेंद्र कालिया ने माफिया पूर्व विधायक अभय सिंह के इशारे पर धनंजय सिंह को फंसाने के लिए खुद पर हमले की साजिश रची थी. इस मामले के सामने आने के बाद सुरेंद्र कालिया परिवार सहित फरार हो गया था.

इसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने 50 हजार का इनाम भी रखा गया था. अवैध पिस्टल रखने के आरोप में कोलकाता पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया था. लखनऊ पुलिस कई महीनों की अदालती कार्यवाही के बाद उसे लखनऊ लेकर आई थी. जेल जाने के बाद सुरेंद्र कालिया जमानत पर छूट गया था. सुरेंद्र कालिया के खिलाफ लखनऊ के विभिन्न थानों में कई आपराधिक मामले दर्ज हैं.

Tags: Assembly elections, Uttar Pradesh Assembly Elections, ​​Uttar Pradesh News

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर