होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /मिशन 2022 में जुटीं प्रियंका गांधी, कांग्रेस संगठन को इस तरह कर रहीं मजबूत

मिशन 2022 में जुटीं प्रियंका गांधी, कांग्रेस संगठन को इस तरह कर रहीं मजबूत

UP विस चुनाव 2022 के लिए पार्टी को मजबूत करने में जुटीं प्रियंका गांधी. (फाइल फोटो)

UP विस चुनाव 2022 के लिए पार्टी को मजबूत करने में जुटीं प्रियंका गांधी. (फाइल फोटो)

उत्तर प्रदेश में अगला विधानसभा चुनाव 2022 में होगा. चुनाव में अभी बहुत समय है लेकिन प्रियंका ने अभी से उस चुनाव की तैया ...अधिक पढ़ें

    उत्तर प्रदेश में अगला विधानसभा चुनाव 2022 में होगा. 2022 के विधानसभा चुनाव में अभी बहुत समय है लेकिन प्रियंका गांधी ने अभी से उस चुनाव की तैयारी शुरू कर दी है. वह पार्टी संगठन में जान फूंकने के लिए कार्यकर्ताओं तक सीधी पहुंच सुनिश्चित करना चाहती हैं. लोकसभा चुनाव में हार की समीक्षा में यह बात सामने आई कि नेताओं और कार्यकर्ताओं में पर्याप्त संपर्क और समन्वय नहीं है. इसके बाद से प्रियंका गांधी ने पूर्वी उत्तर प्रदेश का दौरा करने की रणनीति तैयार की है.

    पार्टी सूत्रों के मुताबिक, प्रियंका कार्यकर्ताओं से मिलकर उनका फीडबैक लेंगी. इसी फीडबैक के आधार पर पार्टी के जिलाध्यक्षों की नियुक्ति की जाएगी. सूत्रों के मुताबिक, पूर्वी उत्तर प्रदेश के दौरे की रूपरेखा तैयार करने के लिए प्रियंका दिल्ली में कुछ खास कार्यकर्ताओं से मुलाकात कर रही हैं. इसमें वे जिलास्तर पर पार्टी के लिए रणनीति तैयार करने की रूपरेखा बना रहीं हैं. दिल्ली में प्रियंका गांधी से मिलकर लौटे एक कांग्रेस कार्यकर्ता ने बताया कि वह एक फॉर्म में सभी सुझावों को नोट करा रहीं हैं.

    कार्यकर्ताओं के आग्रह पर ही सोनभद्र गईं थीं प्रियंका गांधी
    सोनभद्र में 10 लोगों की हत्या के बाद स्थानीय नेताओं ने प्रियंका गांधी से संपर्क किया था. इसके बाद ही प्रियंका गांधी वाराणसी होते हुए सोनभद्र के लिए रवाना हुई थीं. सोनभद्र जाने के क्रम में उन्हें मिर्जापुर की सीमा में ही हिरासत में ले लिया गया था. हिरासत में लेने के बाद प्रशासन ने उन्हें चुनार गेस्ट हाउस में रखा था, जहां उन्होंने धरना-प्रदर्शन शुरू कर दिया था. बाद में प्रशासन पीड़ितों से प्रियंका की मुलाकात कराने को राजी हो गया और प्रशासन ने हत्याकांड में मारे गए लोगों के परिजनों की प्रियंका से मुलाकात कराई. मुलाकात के दौरान प्रियंका गांधी ने पार्टी फंड से मृतकों के परिजनों को 10-10 लाख रुपए मुआवजा देने का भी ऐलान किया था.

    प्रियंका के बाद सोनभद्र पहुंचे थे योगी, दिया था 18.50 लाख रुपए का मुआवजा
    दैनिक भास्कर में छपी खबर के अनुसार प्रियंका गांधी के सोनभद्र पहुंचने के बाद योगी आदित्यनाथ सरकार एक्शन में आई थी. योगी ने इस नरसंहार का ठीकरा कांग्रेस पर ही फोड़ दिया था. योगी ने 21 जुलाई को सोनभद्र पहुंचकर पीड़ितों से मुलाकात की. राज्य सरकार ने पहले मृतकों के परिजनों को 5 लाख का मुआवजा देने का ऐलान किया था, जिसे बाद में बढ़ाकर 18.50 लाख रुपए कर दिया गया था.

    ये भी पढ़ें - 

    आपके शहर से (दिल्ली-एनसीआर)

    दिल्ली-एनसीआर
    दिल्ली-एनसीआर

    Tags: Congress, Lok Sabha Election 2019, Politics, Priyanka gandhi, Uttar pradesh news, Uttar Pradesh Politics, Yogi adityanath

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें