लाइव टीवी

योगी सरकार को घेरने में कामयाब हुई कांग्रेस, सपा-बसपा का ट्विटर पर दिखा 'दम'
Lucknow News in Hindi

News18Hindi
Updated: May 20, 2020, 8:57 PM IST
योगी सरकार को घेरने में कामयाब हुई कांग्रेस, सपा-बसपा का ट्विटर पर दिखा 'दम'
श्रमिकों के लिये बस चलवाने पर प्रियंका गांधी ने योगी सरकार को घेरा (फाइल फोटो)

प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने भी सरकार से अपील करते हुए कहा कि मैं सरकार से आग्रह करती हूं कि आज सायं 4 बजे तक हमें बसों को संचालन करने हेतु अनुमति दें. जिससे श्रमिकों की सुरक्षित घर वापसी हो सके.

  • Share this:
लखनऊ. लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान देश के विभिन्न प्रदेशों में फंसे यूपी के हजारो प्रवासी श्रमिकों के पैदल घर वापसी के मुद्दे को लेकर कांग्रेस (Congress) योगी सरकार को घेरने में कामयाब हो गई है. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) द्वारा सीएम योगी आदित्यनाथ (Cm Yogi Adityanath) को पत्र लिखकर प्रवासी श्रमिकों की मदद के लिये 1000 बस चलवाने की मांगी गई अनुमति के बाद सरकार और कांग्रेस के बीच आरोप और प्रत्यारोप का दौर बुधवार को भी जारी रहा. इस बीच बीजेपी और कांग्रेस के बीच जारी जंग के दौरान भले ही सरकार ने कांग्रेस द्वारा भेजी गई सूची में 460 बसें फर्जी और अनफिट होने का दावा कर कांग्रेस को प्रदेश में बसों को चलाने की अनुमति न दी हो. लेकिन कांग्रेस अनफिट बसों की जगह 1000 फिट बसों को भेजने का दावा कर, योगी सरकार को अंत में बसों की अनुमति के मुद्दे पर चुप्पी साधने को मजबूर करने में कामयाब हो गई है.

UP के प्रवासी श्रमिकों के पैदल अपने घर जाने के मुद्दे को लेकर यूं तो कई बार कांग्रेस के साथ ही साथ सपा और बसपा ने भी योगी सरकार को जमकर आड़े हाथों लिय़ा. लेकिन जिस तरह कांग्रेस ने श्रमिकों की मदद के लिये बस चलवाने की पेशकश के साथ अनुमति के लिये योगी सरकार के खिलाफ सड़क से लेकर सोशल मीडिया में मोर्चा खोलने का काम किया. उस तरह सपा और बसपा योगी सरकार को घेरने में कांग्रेस के सामने पूरी से तरह से नाकामयाब ही रहे हैं. क्योंकि जिस वक्त कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ता ट्विटर से लगाकर सड़क तक कांग्रेस को बस चलवाने की अनुमति देने के लिये सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल संघर्ष कर रहे थे. उस वक्त सपा और बसपा के नेता और कार्यकर्ता सिर्फ ट्विटर पर सरकार का विरोध जताते नजर आ रहे थे.

पत्रों का पत्रों के जरिये जवाब
कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के निर्देश पर एक ओर जहां उनके सचिव संदीप सिंह योगी सरकार के अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी के पत्रों का पत्रों के जरिये ही ताबड़तोड़ जवाब दे रहे थे. तो वहीं दूसरी ओर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू और राष्ट्रीय सचिव जुबेर खान राजधानी लखनऊ से लगाकर मथुरा-राजस्थान पर खडी कांग्रेस की बसो को यूपी भेजने के लिये संघर्ष कर रहे थे. जिसके चलते आगरा स्थित उंचा नागला बार्डर पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू समेत न सिर्फ कई अन्य नेताओं के खिलाफ FIR दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया गया. और साथ ही लखनऊ में भी सरकार को बसों की सूची में गलत जानकारी देने के आरोप में प्रियंका गांधी के निजी सचिव संदीप सिंह और अजय लल्लू के खिलाफ FIR दर्ज करा दी गई.



प्रियंका की अपील


अंत में प्रियंका गांधी ने भी सरकार से अपील करते हुए कहा,‘मैं सरकार से आग्रह करती हूं कि आज सायं 4 बजे तक हमें बसों को संचालन करने हेतु अनुमति दें. जिससे श्रमिकों की सुरक्षित घर वापसी हो सके. सरकार चाहे तो बीजेपी के झण्डे और स्टीकर लगा ले और लोगों को यह बताये कि यह बसें वही चला रहे हैं, किन्तु हमारे लिए सबसे महत्वपूर्ण यह है कि बॉर्डर पर प्रवासी श्रमिक भाई बहन जो इतनी भीषण गर्मी में फंसे और परेशान हैं वह सुरक्षित अपने घरों को जा सकें. प्रियंका ने श्रमिकों को भरोसा दिलाते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में आप जहां-जहां पहुंचेगे वहां भोजन, पानी और अन्य जरूरी सुविधा जो हमारी क्षमता में होगा उसे उपलब्ध कराने के लिए हमारे कार्यकर्ता प्राण-प्रण से लगे रहेंगे. कांग्रेस पार्टी अपने श्रमिक, भाई-बहनों को केवल श्रमिक नहीं राष्ट्रनिर्माता मानती है. इसलिए उनकी सेवा करना हमारा और सभी का राजनीतिक धर्म और जिम्मेदारी भी है जिसे कांग्रेस पार्टी पूरी शिद्दत के साथ निभायेगी.’

ये भी पढ़ें: बसों के सहारे यूपी में साइकल और हाथी से आगे निकली कांग्रेस, प्रियंका ड्राइविंग सीट पर
First published: May 20, 2020, 7:48 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading