लाइव टीवी

सॉफ्ट हिंदुत्व की राह पर प्रियंका गांधी! कुंभ में स्नान कर अपने सियासी पारी का करेंगी आगाज
Lucknow News in Hindi

Amit Tiwari | News18 Uttar Pradesh
Updated: January 28, 2019, 11:15 AM IST
सॉफ्ट हिंदुत्व की राह पर प्रियंका गांधी! कुंभ में स्नान कर अपने सियासी पारी का करेंगी आगाज
प्रियंका गांधी वाड्रा की फाइल फोटो

कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक प्रियंका गांधी और राहुल गांधी 4 फ़रवरी को दूसरे शाही स्नान के मौके पर कुंभ में स्नान कर सकते हैं.

  • Share this:
गुजरात चुनाव में खुद को जनेऊधारी हिंदू बताकर सॉफ्ट हिंदुत्व का कार्ड खेलने वाले राहुल गांधी के बाद उनकी बहन और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा भी अब उसी राह पर हैं. प्रियंका गांधी प्रयागराज कुंभ में संगम की त्रिवेणी में डुबकी लगाकर अपनी सियासी पारी का आगाज कर सकती हैं. कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक प्रियंका गांधी और राहुल गांधी 4 फ़रवरी को दूसरे शाही स्नान के मौके पर कुंभ में स्नान कर सकते हैं. अगर ऐसा नहीं हुआ तो दोनों ही नेता 10 फरवरी को बसंत पंचमी के मौके पर कुंभ स्नान कर सकते हैं.

सियासत में नई नहीं हैं प्रियंका, बस गुजरने भर से कांग्रेस की झोली में आ गई थी यह सीट!

कांग्रेस सूत्रों की मानें तो कुंभ स्नान के बाद प्रियंका और राहुल लखनऊ में साझा प्रेस कांफ्रेंस करेंगे. सॉफ्ट हिंदुत्व कार्ड के साथ ही प्रियंका गांधी पूर्वी उत्तर प्रदेश के प्रभारी का कार्यभार भी ग्रहण करेंगी. माना जा रहा है कि लोकसभा चुनाव से पहले प्रियंका की राजनीति में एंट्री और कुंभ में डुबकी कुछ अलग ही मायने रखेगा. यह शायद पहली बार है जब राहुल गांधी और प्रियंका गांधी दोनों संगम में पवित्र डुबकी लगाएंगे. साल 2001 में तत्कालीन कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कुंभ मेले में भाग लिया था और पवित्र स्नान किया था.

UP के पूर्व राज्यपाल ने प्रियंका को बताया आंधी, 'इनमें दिखती है इंदिरा की छवि'



प्रियंका गांधी और राहुल गांधी के कुंभ में स्नान पर यूपी कांग्रेस के प्रवक्ता अंशु अवस्थी ने कहा कि इस बारे में कोई आधिकारिक सूचना उन्हें प्राप्त नहीं है. उन्होंने कहा कि गांधी नेहरु परिवार हमेशा से ही कुंभ में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेता रहा है. चाहे वाह जवाहरलाल नेहरू हों, इंदिरा गांधी या फिर सोनिया गांधी. अगर राहुल गांधी और प्रियंका गांधी भी कुंभ में स्नान करते हैं तो इसमें आश्चर्य की कोई बात नहीं है. कांग्रेस के लिए आस्था राजनीति का विषय नहीं है.

प्रियंका गांधी को महासचिव बनाने पर बोले अखिलेश- कांग्रेस ने युवाओं को दिया मौका

उधर, अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी महाराज ने कहा है प्रियंका गांधी के राजनीति में आने से कांग्रेस को फायदा होगा. महंत नरेंद्र गिरी महाराज ने कहा कि प्रियंका गांधी में उनकी दादी इंदिरा गांधी की छवि दिखती है और अगर वह कुंभ में स्नान करने आती हैं तो उन्हें साधु महात्माओं का आशीर्वाद जरूर मिलेगा.

प्रियंका गांधी को क्यों नहीं मिला पूरा उत्तर प्रदेश? कांग्रेस नेताओं ने बताई ये बड़ी वजह

बता दें राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव से पहले प्रियंका गांधी को पार्टी में महासचिव का पद देकर पूर्वी उत्तर प्रदेश की जिम्मेदारी दी है. माना जा रहा है कि यह कांग्रेस का मास्टरस्ट्रोक है. प्रियंका के आने से बीजेपी और सपा-बसपा गठबंधन की चुनौती बढ़ गई है.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsAppअपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 28, 2019, 11:15 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर