आर्थिक मंदी पर प्रियंका गांधी बोलीं- मीडिया मैनेजमेंट से नहीं निकलेगा हल

प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने मंदी की मौजूदा स्थिति पर सरकार से श्वेत पत्र जारी करने की मांग की है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 26, 2019, 8:19 AM IST
आर्थिक मंदी पर प्रियंका गांधी बोलीं- मीडिया मैनेजमेंट से नहीं निकलेगा हल
आर्थिक मंदी पर प्रियंका गांधी ने खड़े किए सवाल
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 26, 2019, 8:19 AM IST
कांग्रेस (Congress) की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) ने रविवार को ट्वीट कर केंद्र सरकार को देश में आर्थिक मंदी (Economic Slowdown) के हालात पर घेरा. प्रियंका गांधी ने कहा कि देश में जो आर्थिक मंदी के हालात हैं उसका हल मीडिया मैनेजमेंट (Media Management) से नहीं निकलेगा. उन्होंने कहा कि इसके लिए सरकार को जरूरी कदम उठाने पड़ेंगे. प्रियंका ने मंदी की मौजूदा स्थिति पर सरकार से श्वेत पत्र जारी करने की मांग की है.

प्रियंका गांधी ने ऑटोमोबाइल सेक्टर में मंदी की बाद गए रोजगार का हवाला देते हुए कहा कि पिछले चार महीने में करीब 3.5 लाख लोग बेरोजगार हुए हैं. करीब 10 लाख लोगों की नौकरियों पर संकट मंडरा रहा है. इतना ही नहीं मंदी का असर बैंक, इंश्योरेंस, ऑटो समेत लाजिस्टिक और इन्फ्रास्ट्रक्चर सेक्टर में भी मंदी का असर है. देश के जीडीपी में भी 1.9 प्रतिशत की कमी आई है.

यूपी में कानून व्यवस्था पर उठाए सवाल

प्रियंका गांधी ने यूपी की कानून व्यवस्था पर भी योगी सरकार को घेरा. उन्होंने कहा उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था थीं नहीं चल रही है. लेकिन बीजेपी सरकार इस बात को समझने के लिए तैयार नहीं है. घर में घुसकर लड़कियों के ऊपर तेल छिड़ककर आग लगाई जा रही है.

कल आएंगी रायबरेली

प्रियंका गांधी मंगलवार को अपने एक दिवसीय दौरे पर रायबरेली आ रही हैं. वे अपने दौरे के दौरान रायबरेली सदर से कांग्रेस विधायक अदिति सिंह के घर जाएंगीं. वे वहां उनके पिता अखिलेश सिंह के निधन पर आयोजित शोक सभा में शिरकत करेंगी. इसके बाद वे रायबरेली रेल कोच फैक्ट्री के निजीकरण का विरोस्ग कर रहे लोगों के समर्थन में खड़ी होंगी.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 26, 2019, 8:19 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...