मिर्जापुर से BJP प्रदेश अध्यक्ष तक का सफर, जानिए कौन हैं स्वतंत्र देव सिंह

स्वतंत्र देव सिंह पीएम मोदी की रैली होने के एक सप्ताह पहले की उस स्थान पर डेरा डाल देते है जिससे वह छोटे कार्यकर्ताओं में उत्साह और ऊर्जा का संचार करते हुए रैली को सफल करा सके.

News18Hindi
Updated: July 16, 2019, 5:31 PM IST
मिर्जापुर से BJP प्रदेश अध्यक्ष तक का सफर, जानिए कौन हैं स्वतंत्र देव सिंह
यूपी BJP का नया अध्यक्ष
News18Hindi
Updated: July 16, 2019, 5:31 PM IST
भाजपा ने स्वतंत्र देव सिंह को उत्तर प्रदेश बीजेपी का नया अध्यक्ष बनाया है. बैकवर्ड चेहरा होने के चलते भाजपा ने उन्हें प्रदेश अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी दी है. स्वतंत्र देव सिंह उर्फ कांग्रेस सिंह को योगी सरकार में बुंदेलखण्ड क्षेत्र से प्रतिनिधित्व करने का मौका मिला और उन्हें परिवहन विभाग में स्वतंत्र प्रभार मंत्री बनाया गया था. यूपी में लोकसभा चुनाव से लेकर विधानसभा चुनाव में पीएम मोदी की जितनी भी रैली हुई हैं उसे सफल बनाने में स्वतंत्र देव का बहुत बड़ा हाथ माना जाता है.

RSS में रहे प्रचारक
स्वतंत्र देव सिंह पीएम मोदी की रैली होने के एक सप्ताह पहले की उस स्थान पर डेरा डाल देते हैं जिससे वह छोटे कार्यकर्ताओं में उत्साह और ऊर्जा का संचार करते हुए रैली को सफल करा सकें. वह एक बार एमएलसी भी रह चुके हैं. आरएसएस स्वयंसेवक रहे स्वतंत्र देव सिंह की छवि ईमानदार नेता की है. इतने सालों से राजनीति में रहे स्वतंत्र देव के पास संपत्ति के नाम पर एक ही दोपहिया वाहन है.

पीएम मोदी के काफी करीबी


कुशल संगठनकर्ता के रूप में पहचान
स्वतंत्र देव सिंह के बारे में बताया जाता है कि वह विधानसभा चुनाव में पीएम मोदी की रैली को सफल बनाने के लिए शहरों में जाकर वहीं काम जमीन में जुड़कर काम करने लगते थे. उनके पास बूथ से लेकर मंडल स्तर तक के कार्यकर्ताओं की जानकारी हैं.

स्वतंत्र देव सिंह का सियासी सफर
Loading...

1986- आरएसएस प्रचारक बने
1988-89-अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद में संगठन मंत्री
1991- भाजपा कानपुर के युवा शाखा के मोर्चा प्रभारी
1994- बुन्देलखण्ड के युवा मोर्चा के प्रभारी
1996-युवा मोर्चा का महामंत्री
1998- फिर से भाजपा युवा मोर्चा का महामंत्री
2001- भाजपा के युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष
2004- विधान परिषद के सदस्य
2004- प्रदेश महामंत्री बने
2004 से 2014 तक दो बार प्रदेश महामंत्री
2010- प्रदेश उपाध्यक्ष बने
2012- से प्रदेश अध्यक्ष बनने तक महामंत्री

स्वयंसेवक रहे स्वतंत्र देव सिंह


बता दें कि स्वतंत्र देव सिंह का पैतृक गांव मिर्जापुर जनपद में है. मिर्जापुर जनपद में जन्मे स्वतंत्र देव सिंह ने बुंदेलखंड के जालौन को कर्मभूमि बनाया. यहीं से राजनीति की शुरुआत करते हुए आज पूरे प्रदेश में उनका डंका बजने लगा. बिना किसी राजनीतिक पृष्ठभूमि वाले परिवार में जन्मे स्वतंत्रदेव अपने परिवार में पहले व्यक्ति हैं जो आरएसएस से जुड़कर वर्तमान में बीजेपी जैसी राजनीतिक पार्टी के माध्यम से प्रदेश की राजनीति में सक्रिय भूमिका निभा रहे हैं.

ये भी पढ़ें: ...तो इस वजह से नीरज शेखर का इस्तीफा सपा के लिए है बड़ा झटका

बारिश का कहर: मुरादाबाद में कच्चा मकान गिरने से 2 बच्चों की मौत

प्रियंका गांधी बोलीं- छात्रों की आवाज से BJP इतना डरती क्यों है?

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 16, 2019, 3:43 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...